कोरोना पर लॉकडाउन को लेकर पीएम मोदी का मीडिया प्रमुखों से संवाद, जागरुकता बढ़ाने पर चर्चा

वीडियो क्रांफ्रेंसिंग के जरिए हुए इस संवाद में देशभर के मीडिया समूह के प्रमुख शामिल हुए.

कोरोना पर लॉकडाउन को लेकर पीएम मोदी का मीडिया प्रमुखों से संवाद, जागरुकता बढ़ाने पर चर्चा
पीएम मोदी के साथ हुई इस बैठक में राज्यसभा सदस्य और एस्सल ग्रुप के चेयरमैन सुभाष चंद्रा भी मौजूद थे.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  (Narendra Modi)  कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर मीडिया के साथ संवाद किया. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुए इस संवाद में जी समूह के प्रमोटर और राज्यसभा सदस्य सुभाष चंद्रा
भी हिस्सा लिया. दोपहर करीब 1 बजे शुरू हुई इस संवाद में पीएम मोदी कोरोना वायरस से जुड़े सभी बिंदुओं पर चर्चा की. 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "मीडिया लोगों को घर पर ही बने रहने के लिए संदेश देने का अभियान चलाए. प्रधानमंत्री ने मीडियाकर्मियों से भी सभी तरह की सावधानी बरतने का अनुरोध किया." 

पीएम मोदी ने मीडिया चैनलों से तीन मुद्दों को लेकर लोगों में जागरूकता फैलाने को कहा. प्रधानमंत्री ने कहा, "सभी चैनल लोगों को घर पर ही रहने का संदेश देने के साथ डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए लोगों को जागरूक करें. लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के तरीकों को लेकर जानकारी दें."

प्रधानमंत्री मोदी ने मीडियो प्रमुखों से बातचीत में कहा, "मीडिया द्वारा चलाए गए अभियान से लोग कोरोना वायरस की की गंभीरता को समझेंगे और लॉकडाउन को भी गंभीरता से लेंगे." उन्होंने मीडिया समूहों से अपील की कि वे अपने-अपने प्लैटफार्म्स से लोगों के बीच 'स्टे ऐट होम' को लेकर कैंपेन चलाएं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकारी निर्देशों का पालन करने का आग्रह किया. प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि, "लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें. राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं.'' 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि न्यूज चैनल जनता का फीडबैक हासिल करने के महत्वपूर्ण माध्यम के रूप में कार्य करते हैं और सरकार उन फीडबैक पर लगातार काम कर रही है. उहोंने फील्ड में रिपोर्टिंग कर रहे रिपोर्टर्स को लोगों से बात करने के दौरान आवश्यक सावधानियां बरतने की सलाह दी. उन्होंने चैनल्स को फील्ड में जाने वाले रिपोर्टर्स को बूम माइक मुहैया कराने का सुझाव दिया. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.