मोदी का एकमात्र मकसद नेहरू को खारिज करना: जयराम रमेश

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने शनिवार को नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का एकमात्र मकसद जवाहरलाल नेहरू को ‘‘पूरी तरह खारिज करना’’ है। उन्होंने वाम दलों से भी कहा कि वे नेहरू को ‘‘फिर से खोजने’’ के मंच पर कांग्रेस के साथ आएं और देश में सांप्रदायिक ताकतों पर लगाम लगाने के लिए नेहरूवादी विचारों का इस्तेमाल करें।

त्रिचूर : कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने शनिवार को नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का एकमात्र मकसद जवाहरलाल नेहरू को ‘‘पूरी तरह खारिज करना’’ है। उन्होंने वाम दलों से भी कहा कि वे नेहरू को ‘‘फिर से खोजने’’ के मंच पर कांग्रेस के साथ आएं और देश में सांप्रदायिक ताकतों पर लगाम लगाने के लिए नेहरूवादी विचारों का इस्तेमाल करें।

सी अच्युत मेनन सेंटर की ओर से आयोजित एक परिचर्चा में रमेश ने कहा, ‘‘...नेहरू आज भी प्रासंगिक हैं । नेहरू के बारे में आज भी लिखा जाता है। उन पर आज भी बहस होती है । पर नरेंद्र मोदी का एकमात्र मकसद जवाहरलाल नेहरू को पूरी तरह खारिज करना है। भाजपा का एकमात्र एजेंडा है - नेहरू को गलत तरीके से पेश करना।’’ राज्यसभा सदस्य ने कहा कि नौ महीने पहले प्रधानमंत्री का पदभार संभालने वाले मोदी ने कभी भी जवाहरलाल नेहरू शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है।

उन्होंने कहा, ‘‘एक बार भी नहीं...वाजपेयी ऐसे नहीं थे। अब मुझे आडवाणी के बारे में कुछ सकारात्मक कहना है...आडवाणी ऐसे नहीं थे।’’ पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘यदि आप नेहरूवादी विरासत को खत्म करते हैं तो आप भारत के विचार को खत्म करते हैं। नेहरू एक व्यक्ति से अधिक थे। उन्होंने एक खास तरह की सोच के लिए लड़ाई लड़ी।’’ रमेश ने माकपा सांसद पी राजीव और भाकपा नेता विनय विश्वम से कहा कि यह ‘‘हमारे राजनीतिक इतिहास में एक नाजुक समय है’’। उन्होंने वाम दलों से अपील की वे इस ‘‘ऐतिहासिक दौर’’ में कांग्रेस का समर्थन करें।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.