फारूक अब्दुल्ला का विवादित बयान, कहा- पीओके पाकिस्तान में है और वह पाक में ही रहेगा

जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर पाकिस्तान में ही रहेगा। अब्दुल्ला के इस बयान पर विवाद पैदा हो गया है।

फारूक अब्दुल्ला का विवादित बयान, कहा- पीओके पाकिस्तान में है और वह पाक में ही रहेगा

जम्मू : जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर पाकिस्तान में ही रहेगा। अब्दुल्ला के इस बयान पर विवाद पैदा हो गया है।

अब्दुल्ला ने कहा, 'पीओके पाकिस्तान में है और वह पाकिस्तान में ही रहेगा, जबकि जम्मू एवं कश्मीर भारत में है और वह भारत में रहेगा। हमें यह समझने की जरूरत है।' भारत-पाक संबंधों पर बोलते हुए अब्दुल्ला ने कहा, 'युद्ध समस्या का हल नहीं है, युद्ध से केवल लोगों की जान जाती है। बातचीत ही एक विकल्प है।'

इसके पहले नेशनल कांफ्रेंस के नेता अभिनेता आमिर खान का बचाव किया।

अब्दुल्ला ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘उन्होंने कब कहा कि वह देश छोड़ना चाहते हैं। मैं खुद वहां बैठा था। यह उनके खिलाफ दुष्प्रचार है। उन्होंने कभी नहीं कहा कि वह भारत छोड़ना चाहते हैं, उन्होंने कहा कि भारत मेरा देश है। मैं इस माटी में पैदा हुआ ओैर मैं इसी माटी में मरूंगा।’’ उन्होंने कहा कि आमिर के भारत छोड़ने की कोई वजह नहीं है क्योंकि उन्होंने कभी नहीं ऐसा कहा। उन्होंने मीडिया पर फिल्म अभिनेता के खिलाफ दुष्प्रचार करने का आरोप लगाया।

फारूक ने यहां एक कार्यक्रम में कांग्रेस के दिग्गज और जम्मू कश्मीर के पूर्व वित्त मंत्री गिरधारी लाल डोगरा को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह, मंत्री सी पी गंगा, प्रिया सेठी, भाजपा नेता और जम्मू कश्मीर विधानसभा के अध्यक्ष कविंदर गुप्ता भी मौजूद थे।

एक पुरस्कार समारोह में आमिर खान ने कहा, ‘‘अपने इस जवाब को पूरा करने के लिए कि पहले की तुलना में डर की भावना अधिक है। मैं महसूस करता हूं कि असुरक्षा की भावना है। मैं घर में (पत्नी) किरण से बात कर रहा था। किरण और मैंने भारत में पूरी जिंदगी बितायी। पहली बार उसने कहा, क्या हमें भारत से बाहर चले जाना चाहिए।’’ आमिर ने कहा, ‘‘मेरे सामने किरण के लिए ऐसा बयान देना बड़ा दुखद और बड़ा बयान था। उसे अपने बच्चे के लिए डर सताता है। वह डरती है कि हमारे इर्द-गिर्द कैसा माहौल होगा।’