JNU प्रोटेस्ट मामले में FIR दर्ज कर सकती है पुलिस, स्टूडेंट्स ने तोड़ी थी धारा 144

इस प्रदर्शन में दिल्ली के पुलिस के 30 जवान और जेएनयू के 15 छात्र घायल हुए थे. 

JNU प्रोटेस्ट मामले में FIR दर्ज कर सकती है पुलिस, स्टूडेंट्स ने तोड़ी थी धारा 144
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस (delhi Police) सोमवार को JNU छात्रों द्वारा किए प्रदर्शन के मामले मं एफआईआर दर्ज कर सकती है. इस प्रदर्शन में दिल्ली (delhi) के पुलिस के 30 जवान और जेएनयू के 15 छात्र घायल हुए थे. 

बता दें फीस बढो़तरी के खिलाफ जेएनयू छात्रों (students) ने संसद तक पैदल मार्च किया था. पुलिस ने छात्रों के मार्च को रोकने के लिए जबरदस्त सुरक्षा प्रबंध किए थे. JNU के कैंपस के बाहर धारा 144 लगाई गई थी और यूनिवर्सिटी के गेट पर बैरिकेड भी लगाए थे. लेकिन छात्रों ने धारा 144 तोड़ और  बेरिकेड तोड़ कर यूनिवर्सिटी से बाहर निकल गए. 

प्रशासन ने संसद भवन के पास स्थित तीन मेट्रो स्टेशनों के गेट बंद कर दिए, ताकि छात्रों को संसद पहुंचने से रोका जा सके. दिल्ली मेट्रो ने एक बयान में कहा कि जेएनसू छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए एहतियातन, उद्योग विहार और पटेल चौक स्टेशनों पर ट्रेन पकड़ने या उतरने की व्यवस्था खत्म कर दी गई. उद्योग भवन, पटेल चौक और केंद्रीय सचिवालय स्टेशनों के गेट अस्थायी तौर पर बंद कर दिए गए.

छात्रों के विरोध प्रदर्शन के कारण सफदरजंग अस्पताल, अरविंदो मार्ग, एम्स और सफदरजंग मकबरे के पास के इलाकों में भारी जाम की स्थिति पैदा हो गई.पुलिस ने रास्ते में बैरिकेड्स लगाए, जिसे छात्र लांघने लगे.

आखिरकार शाम को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री द्वारा फीस बढ़ोतरी वापस लेने का आश्वासन मिलने के बाद छात्रों ने अपना धरना खत्म कर दिया.