सिद्धू को मिली पाकिस्तान जाने की इजाजत, आज ही लिखी थी सरकार को तीसरी चिट्ठी

सिद्धू को मिली पाकिस्तान जाने की इजाजत, आज ही लिखी थी सरकार को तीसरी चिट्ठी

विदेश मंत्रालय ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को पाकिस्तान जाने की अनुमति दे दी है. आज ही उन्होंने सरकार को तीसरी चिट्ठी लिखी थी.

सिद्धू को मिली पाकिस्तान जाने की इजाजत, आज ही लिखी थी सरकार को तीसरी चिट्ठी

नई दिल्ली: विदेश मंत्रालय ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) को इजाजत दे दी है. सिद्धू ने करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के उद्घाटन समारोह में शामिल होने की अनुमति मांगी थी. सिद्धू ने आज ही सरकार को तीसरी चिट्ठी लिखी थी. अपने पत्र में
सिद्धू ने लिखा था कि बार-बार रिमाइंडर देने के बाद भी मुझे आपने जवाब नहीं दिया कि सरकार ने मुझे उद्घाटन में जाने की अनुमति दी है या नहीं. गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने नवजोत सिंह सिद्धू को न्योता भेजा है. 

सिद्धू ने अपने पत्र में लिखा था, "मैं स्पष्ट रूप से बता देना चाहता हूं कि अगर सरकार को कोई अड़चन है और मुझे मंजूरी नहीं देती तो मैं नहीं जाऊंगा. लेकिन अगर आप मेरे तीसरे पत्र का जवाब नहीं देंगे तो मैं सिख श्रद्धालुओं के साथ पाकिस्तान जाऊंगा." इससे पहले बुधवार को सिद्धू ने दूसरी बार करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में शामिल होने की अनुमति मांगी थी. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन करेंगे. कॉरिडोर के उद्घाटन के बाद गुरुद्वारा श्री करतारपुर गुरुद्वारा साहिब में दर्शन के लिए पहला जत्‍था रवाना होगा. इस पहले जत्थे में 670 श्रद्धालु शामिल होंगे. इस पहले जत्थे में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह समेत बड़ी संख्या में विधायक और मंत्री जाएंगे. 

करतारपुर जाने के लिए पासपोर्ट अनिवार्य
उधर, पाकिस्तानी सेना ने भारतीय श्रद्धालुओं के लिए पासपोर्ट अनिवार्य कर दिया है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं के लिए पासपोर्ट जरूरी होगा. इससे पहले पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने कहा था कि करतारपुर आने वाले भारतीयों को पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी लेकिन पासपोर्ट छूट के इमरान के फैसले को पाकिस्तानी सेना ने मानने से इनकार कर दिया है. 

गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर करतारपुर कॉरिडोर खुलने जा रहा है. पहले जत्थे में कई मंत्रियों समेत 150 सांसद शामिल हैं. इससे पहले भारत ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा था कि करतारपुर यात्रा के दौरान किसी भी तरह की भारत विरोधी गतिविधि बर्दाश्त नहीं होगी. गृह मंत्री अमित शाह ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर करते हुए इसे एक ऐतिहासिक उपलब्धि बताया है। शाह ने ट्वीट कर कहा है कि सिख श्रद्धालुओं के लिए ये यादगार पल होगा. 

Trending news