जम्मू-कश्मीर: पुंछ में चल रही मुठभेड़ के बीच बड़ा खुलासा, आतंकियों ने बनाई ये प्लानिंग
X

जम्मू-कश्मीर: पुंछ में चल रही मुठभेड़ के बीच बड़ा खुलासा, आतंकियों ने बनाई ये प्लानिंग

सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों से Zee Media को जानकारी मिली है कि आतंकियो का एक ग्रुप लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) के जरिए जम्मू से होते हुए घाटी में घुसने की प्लानिंग बनाई थी.

जम्मू-कश्मीर: पुंछ में चल रही मुठभेड़ के बीच बड़ा खुलासा, आतंकियों ने बनाई ये प्लानिंग

श्रीनगर: जम्मू के पुंछ और राजौरी में पिछले 17 दिनों से आतंकियों के खिलाफ जारी ऑपेरशन पर बड़ा खुलासा हुआ है. सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों से Zee Media को जानकारी मिली है कि आतंकियो का एक ग्रुप लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) के जरिए जम्मू से होते हुए घाटी में घुसने की प्लानिंग बनाई थी. इसके बाद सेना की काउंटर इंफलिट्रेशन और काउंटर टेरर की एक टुकड़ी आतंकियों की खोजबीन के लिए राजौरी और पुंछ में सर्च ऑपरेशन में लगाई गई थी.

अब तक 9 जवान शहीद

इस महीने 11 अक्टूबर को आतंकियों के साथ सेना की मुठभेड़ हुई थी, जिसमे पुंछ के डेरा की गली में 5 जवान आतंकियों के हमले में शहीद हो गए थे. इसके 3 दिन बाद मेंढर में 4 जवान आतंकी हमले में शहीद हो गए थे. अब तक कुल 9 जवान आतंकियो के हमले के शिकार हो चुके हैं.

घाटी में घुसने की फिराक में आतंकियों का ग्रुप

सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक 6 आतंकियों का ग्रुप जम्मू के नेशनल हाईवे के जरिए घाटी में घुसने की फिराक में था. ये हो सकता है कि आतंकी लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) को पार कर दोबारा पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में दाखिल हो गए हों, हालांकि सर्च ऑपरेशन अब भी जारी है.

ये भी पढ़ें- टॉप नक्सली कमांडर हिडमा बीमार, यहां करा रहा है इलाज; तलाश में जुटी खुफिया एजेंसियां

घुसपैठ की कोशिश में 250 आतंकी

खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक LoC के उस पार बने लॉन्चिंग पैड पर बड़ी संख्या में आतंकियों की मौजूदगी देखी जा रही है. करीब 250 की संख्या में आतंकी जम्मू और कश्मीर में घुसपैठ की कोशिश में हैं. LoC पर बर्फबारी और घुसपैठ के रास्ते बंद होने से पहले पाकिस्तानी सेना बड़ी संख्या में आतंकियों को जम्मू कश्मीर में दाखिल कराने की कोशिश में लगी हुई है. हालांकि सीमा पर सेना और BSF की कड़ी चौकसी की वजह से आतंकियों को ज्यादा कामयाबी नहीं मिल पा रही है.

PoK में बढ़ी टेरर कैंपों की संख्या

सुरक्षा एजेंसियों से मिली जानकारी के मुताबिक अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में स्थित आतंकी कैंप में हलचल बढ़ गई है और इनके मास्टरमाइंड भारत में आतंकियों को घुसपैठ कराने की साजिशों में लग गए हैं. Zee Media को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक PoK में तीन नए टेरर कैंप को एक्टिव किया गया है, जिससे अब टेरर कैंप की संख्या 17 से बढ़ कर 20 हो गई है.

घुसपैठ कराने की साजिश में ISI शामिल

सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक भारत-पकिस्तान के बीच फरवरी में हुए सीजफायर के बाद से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी एक बार फिर से आतंकियों को जम्मू कश्मीर में घुसपैठ कराने की साजिशों में लग गई है. सुरक्षा एजेंसियों को ये आशंका है कि तालिबान के हाथ लगे हथियारों के जखीरे को लश्कर और जैश के आतंकियों को दिए जा रहे हैं. यही नहीं ISI लगातार कश्मीर में भारतीय सुरक्षा बलों पर हमले की साजिशों में लगी हुई है.

इन कैंप पर देखी जा रही है ज्यादा मूवमेंट

जानकारी के मुताबिक लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर बने लॉन्चिंग पैड पर आतंकियों की संख्या बढ़ रही है और वो भारत मे घुसपैठ करने की लगातार कोशिशों में लगे हुए हैं. आतंकी जम्मू से सटे अंतराष्ट्रीय सीमा के जरिए घुसपैठ करने की भी कोशिश कर रहे हैं, जिससे जम्मू को टारगेट किया जा सके. सूत्रों के मुताबिक पीओके के जिन टेरर कैंप में लश्कर और जैश के आतंकियों की ज्यादा मूवमेंट देखी दी जा रही हैं, उनके नाम हैं बोई, मुज्जफराबाद, कोटली, बरनाला, लाका ए गैर, शेरपाई, देवलीन, खालिद बिन वालिद, गरही और दुपट्टा, कैम्प्स है.

लाइव टीवी

Trending news