Breaking News
  • डोनाल्‍ड ट्रंप का भारत आना यादगार है: पीएम नरेंद्र मोदी
  • अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा- लव यू इंडिया
  • निर्भया मामले में दायर केंद्र सरकार की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट 5 मार्च को दोपहर 3 बजे सुनवाई करेगा
  • दिल्‍ली में हिंसा: CM अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं दिल्‍लीवालों से शांति की अपील करता हूं
  • सुप्रीम कोर्ट में 6 जज स्‍वाइन फ्लू की चपेट में

प्रदयुम्‍न केस- हरियाणा के मंत्री ने मुझसे CBI जांच के लिए दबाव नहीं देने को कहा था: पिता वरुण ठाकुर

वरुण ठाकुर ने कहा कि हरियाणा के मंत्री राव नरबीर सिंह हमारे पास आए और हमसे कहा कि आप सीबीआई जांच का आग्रह मत करिए क्‍योंकि इसमें समय लगेगा और पुलिस की जांच पर भरोसा कीजिए. 

प्रदयुम्‍न केस- हरियाणा के मंत्री ने मुझसे CBI जांच के लिए दबाव नहीं देने को कहा था: पिता वरुण ठाकुर
वरुण ठाकुर (फोटो: ANI)

नई दिल्‍ली: प्रद्युम्‍न मर्डर केस में सीबीआई द्वारा गुरुग्राम के ही 11वीं क्‍लास के छात्र को पकड़े जाने पर बोलते हुए प्रद्युम्‍न ठाकुर के पिता वरुण ठाकुर ने कहा कि हरियाणा के मंत्री राव नरबीर सिंह ने उनसे सीबीआई जांच की मांग को छोड़ने के लिए कहा था. वरुण ठाकुर ने कहा कि हरियाणा के मंत्री राव नरबीर सिंह हमारे पास आए और हमसे कहा कि आप सीबीआई जांच का आग्रह मत करिए क्‍योंकि इसमें समय लगेगा और पुलिस की जांच पर भरोसा कीजिए. उस पर मैंने कहा कि यदि सीबीआई भी इसी नतीजे पर पहुंचती है, जिस पर पुलिस पहुंची है तो मैं उस रिपोर्ट को स्‍वीकार कर लूंगा लेकिन हम सबसे पहले सीबीआई जांच की मांग करते हैं.

इससे पहले गुरुग्राम में रायन इंटरनेशनल स्‍कूल के प्रद्युम्‍न मर्डर केस में सीबीआई ने 11 वीं क्‍लास के छात्र के पकड़े जाने के बाद चौंकाने वाला खुलासा करते हुए कहा कि इसी छात्र ने मर्डर किया था. सीबीआई के मुताबिक इस छात्र ने परीक्षा रद्द कराने के लिए मर्डर किया. यह छात्र PTM की तारीख भी आगे बढ़वाना चाहता था. यह छात्र चाकू लेकर उस दिन स्‍कूल गया था. प्रद्युम्‍न की हत्‍या के बाद आरोपी ने चाकू को फ्लश कर दिया गया था.

प्रद्युम्न मर्डर केस: CBI का गुड़गांव पुलिस पर गंभीर आरोप, सबूतों से हुई थी छेड़छाड़

सीबीआई के मुताबिक यह हत्‍या पूर्व नियोजित नहीं थी लेकिन यह छात्र कुछ ऐसा करना चाहता था ताकि परीक्षा की तारीखें आगे खिसक जाएं. छात्र ने कहा भी था कि कुछ ऐसा करूंगा कि परीक्षा ही नहीं होगी. इसीलिए प्रद्युम्‍न जैसे ही टॉयलेट में दिखा, उसकी हत्‍या कर दी गई. सीसीटीवी से पूरी घटना का पता चला. सीबीआई के मुताबिक इस बात की जानकारी इस छात्र के दो साथियों को भी थी. इसके साथ ही सीबीआई ने यह भी स्‍पष्‍ट कर दिया कि यह मर्डर केस यौन शोषण से जुड़ा मामला नहीं है. सीबीआई ने छात्र से कबूलनामे पर हस्‍ताक्षर भी करवाए हैं. इसके साथ ही सीबीआई ने यह भी स्‍पष्‍ट किया है कि आरोपी कंडक्‍टर के खिलाफ सबूत नहीं मिले हैं.

प्रद्युम्‍न मर्डर केस: आरोपी छात्र ने परीक्षा रद्द कराने के लिए मर्डर किया- CBI

सोमवार को प्रद्युम्‍न मर्डर केस के आरोपी छात्र ने सीबीआई पर आरोप लगाते हुए कहा कि उससे इस एजेंसी ने जबर्दस्‍ती जुर्म कबूल करवाया है. गुरुग्राम के रायन इंटरनेशनल स्‍कूल में पढ़ने वाले 11वीं के आरोपी छात्र ने बाल सुरक्षा अधिकारी के सामने बयान देते हुए कहा कि सीबीआई ने उसे धमकाते हुए कहा था कि जुर्म कबूल कर लो, नहीं तो तेरे भाई का मर्डर कर देंगे. आरोपी ने कहा कि वह दरअसल अपने भाई से बहुत प्रेम करता है और किसी भी सूरत में उसको मरते हुए नहीं देख सकता. इसलिए इस तरह के दबाव के द्वारा उस जुर्म को कबूल करवाया गया जोकि उसने किया ही नहीं है. 

प्रद्युम्‍न मर्डर केस: सीबीआई ने कहा, जुर्म कबूल करो नहीं तो भाई को मार देंगे- आरोपी

सोमवार को आरोपी की काउंसिलिंग और बयान लेने के लिए बाल सुरक्षा और संरक्षण अधिकारी जब पहुंचीं तो आरोपी ने कहा कि जब सीबीआई ने भाई के मर्डर की धमकी दी तो उसके दबाव में आकर जैसा सीबीआई उससे कह रही है, वह वैसा करता जा रहा है. बाल सुरक्षा अधिकारी ने जब एकांत में आरोपी से बात की तो आरोपी ने कहा कि सीबीआई ने उसका टॉचर किया है और धमकाया है. उसने प्रद्युम्‍न की हत्‍या नहीं की. आरोपी के बयान को बाल सुरक्षा एवं संरक्षण अधिकारी ने लिख लिया है. अब इस लिखित रिपोर्ट को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के पास भेजा जाएगा.