प्रणब मुखर्जी की हुई सफल ब्रेन सर्जरी, फिलहाल वेंटिलेटर सपोर्ट पर

मस्तिष्क में बने खून के थक्के को हटाने के लिए यह सर्जरी की गई.

प्रणब मुखर्जी की हुई सफल ब्रेन सर्जरी, फिलहाल वेंटिलेटर सपोर्ट पर

नई दिल्लीः  सेना के रिसर्च और रेफरल (आर एंड आर) अस्पताल में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के मस्तिष्क की सर्जरी हुई. मस्तिष्क में बने खून के थक्के को हटाने के लिए यह सर्जरी की गई. सूत्रों ने इस बारे में जानकारी दी है. अस्वस्थ चल रहे मुखर्जी डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती कराये गए थे और सर्जरी के पहले वे कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए. सूत्रों ने बताया, ‘‘सेना के आर एंड आर अस्पताल में थक्का हटाने के लिए पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के मस्तिष्क की सर्जरी सफल रही.’’ सूत्रों ने यह भी बताया, ‘‘उनकी स्थिति गंभीर है और वह वेंटिलेटर पर हैं.’’

इससे पहले मुखर्जी (84) ने सुबह एक ट्वीट में कहा,‘‘ अन्य कारणों से अस्पताल गया था जहां पर आज कोविड-19 जांच में संक्रमित होने की पुष्टि हुई.’’ मुखर्जी ने ट्वीट में कहा, ‘‘मैं अनुरोध करता हूं कि जो लोग भी गत एक हफ्ते में मेरे संपर्क में आए हैं, वे खुद पृथक-वास में चले जाएं और कोविड-19 की जांच कराएं.’’

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आर एंड आर अस्पताल का दौरा किया और पूर्व राष्ट्रपति के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली. वह करीब 20 मिनट तक अस्पताल में रहे.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुखर्जी के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है. उन्होंने मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता की तबीयत के बारे में पूछा. राष्ट्रपति भवन ने ट्वीट किया, 'राष्ट्रपति ने शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत के बारे में जानकारी ली. राष्ट्रपति ने उनके जल्द स्वस्थ होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की.'

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित पार्टी के कई साथियों ने मुखर्जी के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की. कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘‘हम पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के कोविड-19 की बीमारी से शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं.’’

पूर्व राष्ट्रपति के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने भी ट्वीट किया, ‘‘ मैं अपने पिता के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. मैं अपने देशवासियों से अपील करता हूं कि वे उनके शीघ्र ठीक होने और अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करें.’’

विभिन्न पार्टियों के नेताओं ने भी उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, ‘‘मुझे भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की जानकारी मिली है... उनकी सेहत को लेकर चिंतित हूं. उनके जल्द ठीक होने की कामना करता हूं.’’

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने ट्वीट किया, ‘‘ मैं प्रणब मुखर्जी के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं. मुझे भरोसा है कि वह जल्द ही इस बीमारी से उबर जाएंगे.’’

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भी मुखर्जी की अच्छी सेहत की कामना करते हुए कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है कि पूर्व राष्ट्रपति जल्द ही इस वायरस के संक्रमण से मुक्त होने में सफल होंगे. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ने भी मुखर्जी के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की.

इजराइल के राष्ट्रपति ने की शीघ्र स्वस्थ होने की कामना

इजराइल के राष्ट्रपति रूविन रिवलिन ने अपने पूर्व भारतीय समकक्ष प्रणब मुखर्जी के कोविड-19 से संक्रमित होने की खबर मिलने के बाद सोमवार को उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की. रिवलिन ने ट्वीट किया, ‘‘ पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए शुभकामनाएं और प्रार्थना भेज रहा हूं.’’

उन्होंने लिखा, ‘‘ मेरे प्रिय मित्र, हम आपके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं.’’ उन्होंने अंग्रेजी और हिंदी में ट्वीट किये. वर्ष 2012-17 के दौरान राष्ट्रपति रहे मुखर्जी अक्टूबर, 2015 में इस्राइल गये थे. वह इस यहूदी राष्ट्र की यात्रा करने वाले पहले भारतीय राष्ट्रपति बने.

मुखर्जी के न्योते पर रिवलिन नवंबर, 2016 में भारत आये थे. इन यात्राओं से प्रधानमंत्री स्तर के ऐतिहासिक आदान-प्रदान का मार्ग प्रशस्त हुआ और द्विपक्षीय संबंध ‘रणनीतिक साझेदारी’ तक पहुंचे.