देश को खुले में शौच मुक्त बनाने की दिशा में बिग-बी की कोशिशों की राष्ट्रपति ने की तारीफ

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश को खुले में शौच मुक्त बनाने की दिशा में सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के उल्लेखनीय योगदान की सराहना करते हुए रविवार को कहा कि अभिनेता के टेलीविजन विज्ञापन से करोड़ों लोग प्रेरित हुए हैं. शहरी महाराष्ट्र को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति ने कहा कि हम सुप्रसिद्ध अभिनेता अमिताभ बच्चन जी के विज्ञापन को टीवी पर देखते रहते हैं. इस तरह के दो-तीन विज्ञापन हैं-इनमें से एक विचार है ‘दरवाजा बंद तो बीमारी बंद.’ 

 देश को खुले में शौच मुक्त बनाने की दिशा में बिग-बी की कोशिशों की राष्ट्रपति ने की तारीफ
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि करोड़ो लोग उनके विज्ञापनों से प्रेरित हुए. (FILE)

मुंबई: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश को खुले में शौच मुक्त बनाने की दिशा में सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के उल्लेखनीय योगदान की सराहना करते हुए रविवार को कहा कि अभिनेता के टेलीविजन विज्ञापन से करोड़ों लोग प्रेरित हुए हैं. शहरी महाराष्ट्र को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति ने कहा कि हम सुप्रसिद्ध अभिनेता अमिताभ बच्चन जी के विज्ञापन को टीवी पर देखते रहते हैं. इस तरह के दो-तीन विज्ञापन हैं-इनमें से एक विचार है ‘दरवाजा बंद तो बीमारी बंद.’ 

उन्होंने कहा, ‘‘पहले भी हम यह सोचते थे कि अगर हम (शौचालय) का दरवाजा खुला रखते हैं तो बीमारी का प्रसार होगा. यह वैज्ञानिक विचार था.’’ कोविंद ने कहा, ‘‘लोकप्रिय अभिनेता इन विज्ञापनों को निशुल्क कर रहे हैं. ओडीएफ दर्जे को प्राप्त करने के लिए आज सम्मानित किए जाने वाले लोगों सहित उस दिशा में काम कर रहे सभी पक्षों की तुलना में अमिताभ बच्चन का योगदान कत्तई कम नहीं है. मैं इसके लिए उन्हें बधाई देना चाहता हूं. करोड़ों लोग उनके विज्ञापनों से प्रेरित हुए हैं.’’ कार्यक्रम के दौरान बॉलीवुड सुपरस्टार मौजूद नहीं थे.