PM मोदी ने झांसी में डिफेंस कॉरीडोर की शुरुआत की, दिया मेक इन इंडिया-मेक फॉर वर्ल्‍ड का नारा
X

PM मोदी ने झांसी में डिफेंस कॉरीडोर की शुरुआत की, दिया मेक इन इंडिया-मेक फॉर वर्ल्‍ड का नारा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यूपी के दौरे पर हैं. महोबा के बाद अब वे झांसी पहुंच गए हैं. पीएम मोदी ने झांसी के किले का निरीक्षण किया.

PM मोदी ने झांसी में डिफेंस कॉरीडोर की शुरुआत की, दिया मेक इन इंडिया-मेक फॉर वर्ल्‍ड का नारा

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यूपी के दौरे पर हैं. महोबा के बाद अब वे झांसी पहुंच गए हैं. पीएम मोदी ने झांसी के किले का निरीक्षण किया. वे झांसी में 'राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व' में शामिल हुए.  

प्रधानमंत्री ने कहा, 'लंबे समय से भारत को दुनिया के सबसे बड़े हथियार खरीदार देशों में गिना जाता रहा है. लेकिन आज देश का मंत्र है- Make In India, Make for world. आज भारत अपनी सेनाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए काम कर रहा है. मेरे पीछे ये ऐतिहासिक झांसी का किला, इस बात का जीता जागता गवाह है कि भारत कभी कोई लड़ाई शौर्य और वीरता की कमी से नहीं हारा.' 

उन्होंने कहा, 'रानी लक्ष्मीबाई के पास अगर अंग्रेजों के बराबर संसाधन और आधुनिक हथियार होते, तो देश की आज़ादी का इतिहास शायद कुछ और होता. हमारी सरकार ने सैनिक स्कूलों में बेटियों के एडमिशन की शुरुआत की है. 33 सैनिक स्कूलों में इस सत्र से गर्ल्स स्टूडेंट्स के एड्मिशन शुरू भी हो गए हैं. सैनिक स्कूलों से रानी लक्ष्मीबाई जैसी बेटियां भी निकलेंगी, जो देश की रक्षा-सुरक्षा, विकास की ज़िम्मेदारी अपने कंधों पर उठाएंगी.'

पीएम मोदी ने कहा, 'आज एक ओर हमारी सेनाओं की ताकत बढ़ रही है, तो साथ ही भविष्य में देश की रक्षा के लिए सक्षम युवाओं के लिए जमीन भी तैयार हो रही है. ये 100 सैनिक स्कूल जिनकी शुरुआत होगी, ये आने वाले समय में देश का भविष्य ताकतवर हाथों में देने का काम करेंगे. मैं झांसी के एक और सपूत मेजर ध्यानचंद जी का भी स्मरण करना चाहूँगा, जिन्होंने भारत के खेल जगत को दुनिया में पहचान दी. अभी कुछ समय पहले ही हमारी सरकार ने देश के खेलरत्न अवार्ड्स को मेजर ध्यानचंद जी के नाम पर रखने की घोषणा की है. 

प्रधानमंत्री ने कहा, ये धरती रानी लक्ष्मीबाई की अभिन्न सहयोगी रहीं वीरांगना झलकारी बाई की वीरता और सैन्य कौशल की भी साक्षी रही है. मैं 1857 के स्वाधीनता संग्राम की उस अमर वीरांगना के चरणों में भी नमन करता हूँ, अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं. मैं नमन करता हूं इस धरती से भारतीय शौर्य और संस्कृति की अमर गाथाएं लिखने वाले चंदेलों-बुंदेलों को, जिन्होंने भारत की वीरता का लोहा मनवाया. मैं नमन करता हूँ बुंदेलखण्ड के गौरव उन वीर आल्हा-ऊदल को, जो आज भी मातृ-भूमि की रक्षा के लिए त्याग और बलिदान के प्रतीक हैं.' 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'आज तो शौर्य और पराक्रम की पराकाष्ठा हमारी रानी लक्ष्मीबाई जी का जन्मजयंती है. आज झांसी की ये धरती आज़ादी के भव्य अमृत महोत्सव की साक्षी बन रही है. आज इस धरती पर एक नया सशक्त और सामर्थ्यशाली भारत आकार ले रहा है.'

NCC के पूर्व छात्रों को फिर से संगठन से जोड़ने का प्लेटफार्म देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने NCC अल्युमनाई एसोसिएशन का उद्घाटन किया. यह एसोसिएशन NCC के उद्देश्यों को आगे बढ़ाएगी और राष्ट्र निर्माण में सहायता करेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व एनसीसी कैडेट के रूप में देश में सबसे पहले इसकी सदस्यता ली. 

प्रधानमंत्री ने NCC की तीनों इकाइयों के लिए सिमुलेशन प्रशिक्षण सुविधाओं को बढ़ाने के उद्देश्य से प्रशिक्षण के राष्ट्रीय कार्यक्रम का शुभारंभ किया. इसमें NCC की सैन्य इकाई के लिए राइफल फायरिंग सिमुलेटर की स्थापना, एयर विंग के लिए माइक्रोलाइट फ्लाइंग सिमुलेटर और नेवल विंग के लिए रोइंग सिमुलेटर शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- यूपी में माफियाओं पर चल रहा बुल्डोजर, नहीं रुकने देंगे विकास के काम: PM मोदी

पीएमओ की ओर से जारी कार्यक्रम के मुताबिक पीएम मोदी झांसी (Jhansi) में स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित किए गए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, ड्रोन और नौसेना के जहाजों के लिए उन्नत इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट सशस्त्र बल सेवा प्रमुखों को सौंपें.

इसके साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी टैंक रोधी निर्देशित मिसाइलों के लिए प्रणोदन प्रणाली का उत्पादन करने के लिए उत्तर प्रदेश रक्षा औद्योगिक गलियारे के झांसी खंड में 400 करोड़ रुपये की परियोजना की आधारशिला रखी. इस कार्यक्रम में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, सीएम योगी आदित्यनाथ, सीडीएस जनरल बिपिन रावत और तीनों सेनाओं के चीफ शामिल रहे.

LIVE TV

Trending news