close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

वायुसेना की ताकत होगी राफेल, देश की 'नई नीति, नई रीति' है सर्जिकल स्ट्राइकः राष्ट्रपति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद में अपने अभिभाषण में कहा राफेल वायुसेना को शक्ति प्रदान करेगी.

वायुसेना की ताकत होगी राफेल, देश की 'नई नीति, नई रीति' है सर्जिकल स्ट्राइकः राष्ट्रपति
राष्ट्रपति ने राफेल को वायुसेना का ताकत बताया है.

नई दिल्लीः राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को कहा कि आधुनिक लड़ाकू विमान राफेल को शामिल करने से वायुसेना की शक्ति में और बढ़ोतरी होने जा रही है. संसद के बजट सत्र के पहले दिन दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में अपने अभिभाषण में कोविंद ने कहा कि 2016 में पाकिस्तान स्थित आतंकवादियों के विरूद्ध हुई सर्जिकल स्ट्राइक को देश की 'नई नीति, नई रीति' करार देते हुए कहा कि भारत हर देश के साथ अच्छे रिश्ते चाहता है, लेकिन हर चुनौती से निपटने के लिए खुद को मजबूत भी करते रहना चाहता है.

उन्होंने कहा, 'दशकों के अंतराल के बाद भारतीय वायुसेना, आने वाले महीनों में, नई पीढ़ी के अति आधुनिक लड़ाकू विमान-राफेल को शामिल करके, अपनी शक्ति को और सुदृढ़ करने जा रही है. 

गौरतलब है कि कांग्रेस राफेल विमान सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमले कर रही है. दूसरी तरफ, सरकार ने उसके आरोपों को बार-बार खारिज किया है. 

सर्जिकल स्ट्राइक का उल्लेख करते हुए कोविेंद ने कहा, 'विश्व पटल पर, जहां एक ओर भारत, हर देश के साथ मधुर संबंध का हिमायती है, वहीं हर पल हमें हर चुनौती से निपटने के लिए स्वयं को सशक्त भी करते रहना है. बदलते हुए भारत ने सीमा पार आतंकियों के ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक करके अपनी ‘नई नीति और नई रीति’ का परिचय दिया है.'

राष्ट्रपति ने कहा, ' पिछले वर्ष भारत उन चुनिंदा देशों की पंक्ति में शामिल हुआ है जिनके पास परमाणु त्रिकोण की क्षमता है. हमारी सेनाएं और उनका मनोबल, 21वीं सदी के भारत के सामर्थ्य का प्रतीक है.'