close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका, रूस और नेपाल समेत दुनियाभर के देशों ने आतंकी हमले की निंदा की, कहा- हम भारत के साथ हैं

पुलवामा में यह हमला जम्मू कश्मीर में आतंकवाद के तीन दशक के दौर में भीषणतम हमलों में से एक है. 

अमेरिका, रूस और नेपाल समेत दुनियाभर के देशों ने आतंकी हमले की निंदा की, कहा- हम भारत के साथ हैं
फोटो साभारः ANI

नई दिल्ली: अमेरिका, रूस, मालदीव और पड़ोसी देश नेपाल समेत कई देशों ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले की निंदा की और कहा कि वह आतंकवाद को पराजित करने के लिए भारत के साथ है. जैश ए मोहम्मद के एक आत्मघाती बम हमलावर ने विस्फोटकों से लदी एक गाड़ी सीआरपीएफ की एक बस से टकरा दी. फलस्वरूप विस्फोट में कम से कम 40 जवान शहीद हो गये और कई अन्य गंभीर रूप से घायल हुए. पुलवामा में यह हमला जम्मू कश्मीर में आतंकवाद के तीन दशक के दौर में भीषणतम हमलों में से एक है.

भारत में अमेरिका के राजदूत कीनेथ जस्टर ने ट्वीट करते हुए संवेदना प्रकट की है, उन्होंने कहा कि,  'भारत में अमेरिकी मिशन जम्मू कश्मीर में आज हुए आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता है. हम इस हमले में मारे गये लोगों के परिवारों और घायलों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रकट करते हैं.'

उन्होंने कहा कि अमेरिका आतंकवाद का मुकाबला करने और उसे पराजित करने के लिए भारत के साथ खड़ा है. वहीं पड़ोसी देश नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने पीएम नरेंद्र मोदी से इस दुखद घटना पर बात की और शोक प्रकट करते हुए कहा कि, 'हम इस घटना की निंदा करते हैं और दुख के इस घड़ी में भारत के साथ हैं'.

मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने ट्वीट करते हुए संवेदना प्रकट की, शाहिद ने लिखा कि, 'मालदीव भारतीय सुरक्षा बलों के काफिले पर हुए आतंकी हमलों की कड़ी निंदा करता है. और हमले में शहीद हुए और घायल हुए जवानों के परिवार के प्रति शोक प्रकट करते हैं' भूटान ने विदेश मंत्री ने कहा कि, कश्मीर में हुए आतंकी हमले के बारे में सुनकर हैरान और दुखी हूं, हम इस जघन्य हमले की कड़ी निंदा करते हैं.

और दुख के इस घड़ी में हम पीड़ितों और भारत सरकार के साथ हैं. और आशा करते हैं कि जल्द से जल्द पीड़ितों को न्याय मिलेगा.'  रूस ने इस हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि, हमले में मारे गए जवानों के प्रति शोक प्रकट करते हैं. और बिना किसी दोहरे रवैए के आतंकवाद के लड़ाई में हम भारत के साथ हैं.'  

श्रीलंका के पीएम रानिल विक्रमसिंघे ने कहा, 'मैं कश्मीर के पुलवामा जिले में क्रूर आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता हूं. 3 दशक के बाद का यह सबसे बड़ा आतंकी हमला है. मैं पीएम मोदी और जवानों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं जिन्होंने अपनी जान गंवा दी.'