शेख रशीद के बयान ने करतारपुर कॉरिडोर के पीछे PAK का नापाक इरादा किया उजागर: अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि भारत ने सोचा था कि करतारपुर कॉरिडोर दोनों देशों के बीच एक शांति का पुल बनेगा. 

शेख रशीद के बयान ने करतारपुर कॉरिडोर के पीछे PAK का नापाक इरादा किया उजागर: अमरिंदर सिंह
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने कहा है कि पाकिस्तान (Pakistan) के रेल मंत्री शेख रशीद (Sheikh Rashid) के बयान करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur corridor) के पीछे पाकिस्तान के नापाक इरादों को उजागर कर दिया है. बता दें शेख रशीद ने कहा था कि करतारपुर कॉरिडोर पाक आर्मी चीफ  जनरल कमर जावेद बाजवा के दिमाग की उपज था. 

उन्होंने कहा कि रशीद के बयान ने करतारपुर कॉरिडोर के पीछे छिपे हुए पाकिस्तान के नापाक डिजाइन को उजागर कर दिया. भारत ने सोचा था कि करतारपुर कॉरिडोर दोनों देशों के बीच एक शांति का पुल बनेगा. 

इससे पहले अकाली दल के नेता और विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने भी शेख रशीद के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी. उन्होंने ट्वीट करके कहा, मैं प्रधानमंत्री इमरान खान से अपील करता हूं कि वह बयान जारी कर शेख रशीद के बयान के पीछे की मंशा स्पष्ट करें. अगर रशीद झूठ बोल रहे हैं तो सिख भवनाओं को आहत करने के लिए इस बड़ेबोले मंत्री खिलाफ सख्त एक्शन ले.

क्या कहा था शेख रशीद ने?
बता दें पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद ने दावा किया है कि ऐतिहासिक करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा के दिमाग की उपज थी और यह भारत के लिए हमेशा के लिए नुकसान करने वाला होगा. रशीद का यह बयान पाक सरकार के उस दावे के उल्ट है जिसमें वह कहती आई है कि करतारपुर कॉरिडोर पीएम इमरान खान की पहल है. 

'करतारपुर कॉरिडोर सुरक्षित, दुश्मन को कई बार सोचना होगा'
एसएफ (BSF) के 55वें स्थापना दिवस पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय (Nityanand Rai) ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur corridor) को बीएसएफ (BSF) ने सुरक्षित रखा है. राय ने कहा कि दुश्मन को घुसपैठ के लिए कई बार सोचना पड़ेगा. 

केंद्रीय गृह राज्य नित्यानंद राय ने कहा, 'करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर डेरा बाबा नानक बीएसएफ जवानों ने सुरक्षित कर रखा है है। जवानों के प्रयासों के कारण दुश्मनों को किसी घुसपैठ या किसी अपराध को करने से पहले कई बार सोचना पड़ता है.