मामले लंबित रहने से न्याय व्यवस्था चरमरा रही है, कानून मंत्री झूठी खबरें फैलाने में व्यस्त हैं : राहुल

प्रसाद ने कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि उसने पिछले चुनावों में विवादास्पद डाटा कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका की सेवाएं ली थीं जिस पर राहुल ने शनिवार को पलटवार किया.

मामले लंबित रहने से न्याय व्यवस्था चरमरा रही है, कानून मंत्री झूठी खबरें फैलाने में व्यस्त हैं : राहुल
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अदालतों में काफी संख्या में मामले लंबित रहने और न्यायाधीशों की कमी को लेकर शनिवार को कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद पर हमला बोला. राहुल ने केंद्री य मंत्री पर  पर‘‘ फर्जी खबरें फैलाने’’ का आरोप लगाया. बता दें कांग्रेस और भाजपा एक- दूसरे पर विवादास्पद डाटा कंपनी की सेवाएं लेने के लिए आरोप लगा रही हैं. प्रसाद ने कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि उसने पिछले चुनावों में विवादास्पद डाटा कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका की सेवाएं ली थीं जिस पर राहुल ने आज पलटवार किया. कैंब्रिज एनालिटिका पर फेसबुक से डाटा चुराने के आरोप हैं. कांग्रेस ने आरोपों से इनकार किया है और भाजपा पर आरोप लगाया है कि उसने कंपनी की सेवाएं लीं.

राहुल ने केंद्रीय मंत्री पर साधा निशाना
राहुल ने ट्वीट किया, ‘‘ मामले लंबित रहने से न्याय व्यवस्था चरमरा रही है. उच्चतम न्यायालय में55 हजार से ज्यादा, उच्च न्यायालयों में37 लाख से ज्यादा, निचली अदालतों में2.6 करोड़ से ज्यादा मामले लंबित हैं. फिर भी उच्च न्यायालयों में400 और निचली अदालतों में 6000 न्यायाधीशों की नियुक्ति नहीं हुई है, जबकि कानून मंत्री फर्जी खबरें फैलाने में व्यस्त हैं.’’ 

लगातार केंद्र पर हमला बोल रहे हैं राहुल
इससे पहले शुक्रवार (23 मार्च) को राहुल गांधी ने डाटा चोरी के मुद्दे पर भाजपा हमला बोलते हुए कहा था कि सत्तारूढ़ दल कैबिनेट मंत्री के जरिए झूठ बुलवा रही है और यह फर्जी खबर चलवा रही है कि कांग्रेस ने कैम्ब्रिज एनेलिटिका के साथ काम किया था. उन्होंने ट्वीट कर कहा था, ‘‘भाजपा के झूठ का कारखाना जारी है. पत्रकारों द्वारा यह बड़ी खबर ब्रेक किया जाना लगभग तय है कि कैसे कैम्ब्रिज एनेलिटिका (सीए) को सेंध लगाने और 2012 में कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने के लिए भुगतान किया गया.’’ 

राहुल ने कहा, ‘‘भाजपा अपने कैबिनेट मंत्री के जरिए झूठ बुलवा रही और यह फर्जी खबर चलवा रही है कि कांग्रेस ने सीए के साथ काम किया था. असली खबर गायब हो गई.’’ उन्होंने अपनी ट्वीट के साथ एक समाचार वेबसाइट की इस शीर्षक की खबर चलायी, ‘‘भंडाफोड़ करने वाले ने कैम्ब्रिज एनेलिटिका के भारत के साथ संबंध होने का खुलासा किया.’’ 

(इनपुट - भाषा)