close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राहुल गांधी ने योग दिवस के साथ ही सेना का भी उड़ाया मजाक, फोटो शेयर करते ही विवाद

योग दिवस पर राहुल गांधी के इस तस्वीर के शेयर करते ही लोगों ने उन्हें ही ट्रोल करना शुरू कर दिया. राहुल ने बीजेपी और सरकार पर तंज कसने के चक्कर में सेना और योग दिवस का मजाक बनाया जो लोगों को पसंद नहीं आया.

राहुल गांधी ने योग दिवस के साथ ही सेना का भी उड़ाया मजाक, फोटो शेयर करते ही विवाद
इससे पहले राहुल गांधी संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान मोबाइल देखने के चक्कर में विवादों में आए थे.

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर एक फोटो शेयर कर विवादों में फंस गए हैं. दरअसल उन्होंने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सेना की ‘डॉग यूनिट’ के योग कार्यक्रम से जुड़ी तस्वीरें शेयर कर करते हुए सरकार पर तंज कसा और कहा कि यह ‘न्यू इंडिया’ है. हालांकि उनके इस तस्वीर के शेयर करते ही लोगों ने उन्हें ही ट्रोल करना शुरू कर दिया. राहुल ने बीजेपी और सरकार पर तंज कसने के चक्कर में सेना और योग दिवस का मजाक बनाया जो लोगों को पसंद नहीं आया.

गांधी ने ट्विटर पर ‘डॉग यूनिट’ के एक योग कार्यक्रम की तस्वीरें शेयर कीं और लिखा, ‘‘न्यू इंडिया.’ उन्होंने जो तस्वीरें शेयर की हैं उनमें ‘डॉग यूनिट’ से जुड़े जवानों के साथ खोजी कुत्ते भी योगासन की मुद्रा में नजर आ रहे हैं. गौरतलब है कि 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री ने रांची और कई मंत्रियों ने अलग अलग जगहों पर योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया. राहुल गांधी के इस ट्वीट के जवाब में लोगों ने उन्हें ही खरी खरी सुनानी शुरू कर दीं.

राम माधव ने राहुल गांधी पर कसा तंज, कहा- 'योग से दूर होता है बचपना'
BJP के महासचिव राम माधव ने शुक्रवार (21 जून) को कहा कि संसद में 'बच्चे' भी हैं और योग उनकी 'बचकानी मनोवृत्ति' से निपटने में सहायता कर सकता है. उनका इशारा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के गुरुवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण के समय मोबाइल फोन देखने संबंधी आलोचनाओं के घेरे में आने की ओर था. माधव ने गांधी को निशाना बनाने वाली यह टिप्पणी यहां भाजपा की तरफ से आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह का उद्घाटन करते हुए की.

माधव ने वहां एकत्र हुये स्कूली बच्चों सहित कई लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वह अपने राष्ट्रपति के अभिभाषण तक पर भी ध्यान केंद्रित नहीं कर सकते. उन्हें अपना मोबाइल फोन चाहिये था ताकि मैसेज देख सकें या फिर वीडियो गेम्स खेल सकें. यह बचकानी हरकत अस्थिर दिमाग को दिखाती है. अगर इस पर काबू करना है तो आपको योग करने की आवश्यकता है.

गौरतलब है कि गुरूवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के संसद के संयुक्त सत्र के संबोधन के समय गांधी को अपने मोबाइल फोन से कुछ करते देखे जाने के बाद विवाद शुरू हो गया. कांग्रेस ने भाजपा के नेताओं की इस पर की गई टिप्पणी पर आपत्ति जताते हुये कहा है कि सत्तारूढ़ दल को ऐसी टिप्पणियां नहीं करनी चाहिए.

input : Bhasha