रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की तीनों सेनाओं के प्रमुख के साथ बैठक, चीन के मुद्दे पर बातचीत

 बैठक में CDS जनरल बिपिन रावत भी मौजूद थे.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की तीनों सेनाओं के प्रमुख के साथ बैठक, चीन के मुद्दे पर बातचीत
सूत्रों के मुताबिक, बैठक में चीन के मुद्दे पर बातचीत हुई.

नई दिल्ली: भारत और चीन की सेनाओं के बीच लद्दाख में जारी तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को तीनों सेनाओं के प्रमुख के साथ बैठक की. सूत्रों के मुताबिक, बैठक में चीन के मुद्दे पर बातचीत हुई. बैठक में CDS जनरल बिपिन रावत भी मौजूद थे.

लद्दाख में भारत-चीन के बीच तनाव जारी
लद्दाख में भारत-चीन के बीच तनाव जारी है. दोनों देशों के बीच कई दौर की कूटनीतिक वार्ता भी हो चुकी है लेकिन दोनों ही तरफ से सैनिकों की तादाद में कोई कमी नहीं हुई है. हालांकि, राहत की बात ये है कि अभी तक लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर कोई और घटना नहीं हुई है. यह सीमा 4056 किमी लंबी है. 22 मई को भारतीय सेनाध्यक्ष जनरल एमएम नरवणे ने भी लेह जाकर हालात का जायजा लिया. साफ है कि हालात 2017 में सिक्किम की सीमा पर 73 दिन तक चले डोकलाम तनाव से कम गंभीर नहीं हैं. खबरों के मुताबिक गलवान नदी और पेंगांग झील के किनारे दोनों ओर के हजारों सैनिक एक-दूसरे के सामने जमे हुए हैं.   

गलवान घाटी में बढ़ी चीनी सैनिकों की तादात 
गलवान घाटी में चीन बड़ी तादाद में अपने बॉर्डर डिफेंस रेजिमेंट के सैनिकों को आगे ले आया है. इनके साथ सैनिकों के रहने की जगह बनाने के लिए भारी उपकरण भी आगे लाए गए हैं. कई सैटेलाइन इमेज में चीनी सेना की टैंक और गाड़ियां साफ नजर आ रही हैं. गलवान नदी काराकोरम पहाड़ से निकलकर अक्साइ चिन के मैदानों से होकर बहती है जिस पर चीन 1950 के दशक में अवैध कब्जा कर लिया था. चीन पहले ये मानता रहा कि उसका इलाका नदी के पूर्व तक ही है लेकिन 1960 से उसने इस दावे को नदी के पश्चिमी किनारे तक बढ़ा दिया.

ये भी देखें-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.