Rajasthan Politics: भारत जोड़ो यात्रा ने कराई गहलोत-पायलट के बीच 'दोस्ती', राजस्थान में राहुल के मिशन को बनाएंगे ऐतिहासिक
topStories1hindi1463206

Rajasthan Politics: भारत जोड़ो यात्रा ने कराई गहलोत-पायलट के बीच 'दोस्ती', राजस्थान में राहुल के मिशन को बनाएंगे ऐतिहासिक

CM Ashok Gehlot: हाल ही में एक इंटरव्यू में अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को गद्दार कहा था. वार-पलटवार के बीच कांग्रेस के दोनों दिग्गज नेता एकसाथ नजर आए हैं. मौका था राजस्थान की राजधानी जयपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस का.

Rajasthan Politics: भारत जोड़ो यात्रा ने कराई गहलोत-पायलट के बीच 'दोस्ती', राजस्थान में राहुल के मिशन को बनाएंगे ऐतिहासिक

Ashok Gehlot and Sachin Pilot: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच तकरार जगजाहिर है. दोनों के बीच जुबानी जंग चलती है. हाल ही में एक इंटरव्यू में अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को गद्दार कहा था. गहलोत के बयान पर पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस तरह कीचड़ उछालने के बजाय सबको मिल कर कांग्रेस को मजबूत करना चाहिए. वार-पलटवार के बीच कांग्रेस के दोनों दिग्गज नेता एकसाथ नजर आए हैं.

मौका था राजस्थान की राजधानी जयपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस का. यहां पर दोनों ने संयुक्त प्रेस वार्ता की जिसमें राजस्थान में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर तैयारियों के बारे में बताया गया. 

अशोक गहलोत ने क्या कहा...

इस मौके पर अशोक गहलोत ने कहा, राहुल जी जिस रूप में यात्रा को लेकर चल पड़े हैं इससे पूरे देश के अंदर एक नई आशा की किरण जागी है. आने वाले दिनों में यात्रा तो समाप्त हो जाएगी, लेकिन देश के अंदर जो माहौल बना है वो माहौल देश में जो चुनौती, तनाव और हिंसा का माहौल है इसे लेकर जो मुद्दा राहुल जी ने पकड़ा है उसे पूरे देश ने स्वीकार किया है. 

उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री और गृह मंत्री गुजरात में जिस प्रकार घूम रहे हैं,इस प्रकार से यात्राएं वहां क्यों हो रही हैं? आप समझ सकते हैं कि इतने घबराए हुए और बौखलाए हुए हैं क्योंकि राहुल गांधी की यात्रा का संदेश इतना शानदार है. वहीं, सचिन पायलट ने कहा, राहुल गांधी की राजस्थान में होने वाली भारत जोड़ो यात्रा काफी यादगार रहेगी, यह एक ऐतिहासिक यात्रा होगी, हर वर्ग के लोग इस यात्रा से जुड़ेंगे. कार्यकर्ता और नेता भी इस यात्रा से जुड़ेंगे. 

बता दें कि गहलोत ने एक टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा था कि पायलट एक 'गद्दार' (देशद्रोही) हैं, जो उनकी जगह नहीं ले सकते क्योंकि उन्होंने 2020 में कांग्रेस के खिलाफ विद्रोह किया था और राज्य सरकार को गिराने की कोशिश की थी. गहलोत के बयान पर पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस तरह कीचड़ उछालने के बजाय सबको मिल कर कांग्रेस को मजबूत करना चाहिए.

दोनों के बीच तकरार पर राहुल गांधी ने कहा, सचिन पायलट और अशोक गहलोत कांग्रेस की संपत्ति हैं. राहुल के बयान के बाद अशोक गहलोत ने कहा, राहुल गांधी के कहने के बाद कुछ भी कहने की गुंजाइश नहीं है. गहलोत ने कहा राहुल गांधी हम सबके नेता हैं. जब राहुल गांधी ने कहा है कि एसेट्स (धरोहर) है तो फिर एसेट्स है. फिर चर्चा किस बात की.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं. 

Trending news