EVM से होंगे पंचायतीराज के चुनाव, तीन राज्यों से ली जाएंगी 1 लाख 10 हजार मशीनें

प्रदेश में पंचायतीराज चुनाव के लिए राज्य निर्वाचन आयोग 1 लाख 10 हजार मशीनें किराए पर लेगा. यह सभी मशीनें महाराष्ट्र, उड़ीसा ओर बिहार से आएंगी.

EVM से होंगे पंचायतीराज के चुनाव, तीन राज्यों से ली जाएंगी 1 लाख 10 हजार मशीनें
प्रतीकात्मक तस्वीर.

जयपुर: प्रदेश में जनवरी माह में होने वाले पंचायतीराज (Panchayati Raj) के चुनाव ईवीएम से होंगे. सरकार ने चुनाव के लिए 15 करोड़ रुपये का बजट ईवीएम (EVM) ट्रांसपोर्टेशन के लिए जारी कर दिया है. अब राज्य चुनाव आयोग जल्द ही भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड से ईवीएम मशीनें लेगा. 

प्रदेश में पंचायतीराज चुनाव के लिए राज्य निर्वाचन आयोग 1 लाख 10 हजार मशीनें किराए पर लेगा. यह सभी मशीनें महाराष्ट्र, उड़ीसा ओर बिहार से आएंगी. आयोग के अनुसार, पंचायत समिति सदस्यों के लिए 45 हजार ईवीएम और जिला परिषद सदस्यों के लिए 45 हजार ईवीएम की जरूरत पड़ेगी. वहीं 20 प्रतिशत ईवीएम रिजर्व रखी जाएंगी. 

नई ईवीएम के लिए 19 करोड़ रुपये जारी
इसके साथ ही राज्य निर्वाचन आयोग नई ईवीएम भी खरीदेगा. इसके लिए राज्य सरकार ने 19 करोड़ रुपये का बजट जारी कर दिया है. नई ईवीएम को लेकर आयुक्त प्रेम सिंह मेहरा ने बेल के अधिकारियों के साथ चर्चा की है. इसके साथ ही उन्हें जल्दी ईवीएम देने की मांग की है. हालांकि माना जा रहा है कि बेल के लिए इतना जल्दी नई ईवीएम देना मुश्किल लग रहा है. अगर बेल नई ईवीएम समय से देता है तो सरपंच के चुनाव भी ईवीएम से कराए जा सकते हैं. आयोग सरपंच के चुनाव ईवीएम से कराने पर भी विचार कर रहा है. 2015 में हुए पंचायत चुनाव  में 16 जिलों में ईवीएम के जरिए मतदान करवाया गया था. 

15 दिसंबर से लग सकती है आचार संहिता
राज्य निर्वाचन आयोग पंचायतीराज चुनाव को लेकर तैयारियों में जुट गया है. पंचायतीराज चुनाव को लेकर 15 दिसंबर से आचार संहिता लग सकती है. पिछले चुनावों की शुरूआत 18 जनवरी से हुई थी.