बूंदी बस हादसा: 24 मौतों पर फूट-फूट कर रोया कोटा, श्मशान में मची चीख-पुकार

देखते ही देखते लोग बस में फ़ंसे लोगों को निकालने पहुंचे लेकिन उन 30 में से 24 दम तोड़ चुके थे. इस बस दुर्घटना में 24 जानें काल का ग्रास बन गईं, तो 5 अस्पताल में ज़िंदगी और मौत की जंग लड़ रही हैं.

बूंदी बस हादसा: 24 मौतों पर फूट-फूट कर रोया कोटा, श्मशान में मची चीख-पुकार
कोटा के लिए बुधवार का दिन काले अक्षरों से लिखा गया.

कोटा: बुधवार का दिन कोटा के एक परिवार के लिए काल बन गया. एक बस हादसा और पूरा का पूरा परिवार ही ख़त्म हो गया. लाखेरी में हुए बस हादसे में 24 लोगों की जान चली गई, जिसने भी इस घटना के बारे में सुना, सिहर उठा. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, राजस्थान सरकार के चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ओर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावस घायलों से मिलने कोटा पहुंचे. 

जिसने भी हादसे का मंजर देखा, सिहर उठा. आंसू रुके नहीं. हर आंख को रोने पर विवश करने वाला मंज़र था एक साथ जलती 21 चिताएं. इस घटना से उठे दर्द की आह के बाद तो शायद शमशान भी चीत्कार उठा. कहां एक तरफ़ ये परिवार शादी की ख़ुशी में डूबा था, कहां ये ग़म का दहलाने वाला मंज़र. कोटा से सवाईमाधोपुर के लिए कोटा का परिवार मायरा भरने के लिए रवाना हुआ पूरा परिवार बस ड्राइवर समेत निजी बस में कुल 30 लोग सवार थे लेकिन लाखेरी के पास मेज़ नदी पर बनी पुलिया पर बस एकाएक अनियंत्रित हो गई और अनियंत्रित होकर नदी में जा गिरी.

देखते ही देखते लोग घटना के साथ बस में फ़ंसे लोगों को निकालने पहुंचे लेकिन उन 30 में से 24 दम तोड़ चुके थे. इस बस दुर्घटना में 24 जानें काल का ग्रास बन गईं, तो 5 अस्पताल में ज़िंदगी और मौत की जंग लड़ रही हैं.
कोटा के जवाहर नगर में जब ये सभी शव एक के बाद एंबुलेंस से पहुंचे तो चीत्कार-चीख़ उठी रोने की आवाज़ों ने हर किसी की रूह को कंपा दिया. इस परिवार के बीच न केवल परिवार के सदस्य उनके रिश्तेदार पहुंचे बल्कि शहर के हर इलाक़े से हज़ारों लोग इस परिवार के बीच दुःख की इस घड़ी में कंधे से कंधा मिलाकर खड़े नज़र आए.

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भी इस घटना के बाद कोटा पहुंचे. मृतक परिवार के सदस्यों को ढांढस बंधाया और अंतिम संस्कार में शामिल हुए. बिरला ने  दुःख जताते हुए कहा कि पीएम ने भी इस घटना की जानकारी ली है. दुखः की घड़ी में परिवार के साथ पूरा संसदीय क्षेत्र खड़ा है. हर संभव मदद की कोशिश हर तरफ़ से होगी.

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा भी पहुंचे
घटना के बाद राजस्थान सरकार के दो मंत्री जिनमें चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा और परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावस कोटा पहुंचे. पीड़ित परिवारों को सांत्वना दी और अंतिम संस्कार में शामिल हुए. मीडिया से बात करते हुए मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि दुःख की घड़ी में परिवार के साथ पूरी सरकार खड़ी है. ख़ुद मुख्यमंत्री घटना को लेकर चिंतित हैं. इस घटना को लेकर सीएम अशोक गहलोत ने सभी मृतकों को लेकर 2-2 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है, वहीं, प्रभारी मंत्री ने कहा कि हर संभव मदद करेंगे तो इस घटना की जांच के साथ ऐसे हादसों को रोकने के लिए कारगर क़दम भी उठाए जाएंगे. 

कोटा के लिए बुधवार का दिन काले अक्षरों से लिखा गया. शायद कोटा के इतिहास की ये सबसे बड़ी घटना थी, जो घटी जिसने एक पूरे परिवार को तबाह कर दिया. घटना को लेकर अब जांच की बात की जा रही है लेकिन बड़ा सवाल ये आख़िर ऐसी लापरवाही की गुंजाइश क्यों रखी जाती है. इसके चलते ऐसे हादसे पेश आते हैं और दूसरा सवाल आख़िर इन 24 मौतों का जवाब अब कौन देगा? कौन इनकी ज़िम्मेदारी लेगा?

बस हादसे में मृतकों का विवरण
1. बजरंगी देवी पत्नी स्वर्गीय श्री बाबुलाल, जाति धोबी, उम्र 75 वर्ष, निवासी गणेश तालाब कोटा
2. सोनू वर्मा पत्नी श्री मुकेश वर्मा, जाति धोबी, उम्र 36 वर्ष, निवासी दादाबाड़ी कोटा बसन्त बिहार 506
3. साधना पत्नी श्री मनोज, जाति धोबी, उम्र 44 वर्ष, निवासी बस स्टेण्ड छीपा बड़ौद जिला बारां
4. संतोष वर्मा पत्नी स्वर्गीय श्री गोपाल लाल वर्मा, जाति धोबी, उम्र 65 वर्ष, निवासी जवाहर नगर कोटा
5. कान्ता वर्मा पत्नी श्री मुरली उर्फ सुभाष, धोबी, उम्र 25 वर्ष, निवासी गणेश तालाब दादाबाड़ी कोटा
6. दुर्गाशंकर पुत्र श्री भंवरलाल, जाति धोबी, उम्र 62 वर्ष, निवासी बल्लभ बाड़ी राजीव गांधी बस्ती कोटा
7. उच्छव लाल उर्फ छोटुलाल पुत्र श्री राजूलाल, जाति धोबी, उम्र 67 वर्ष, निवासी राजीव गांधी बसती बल्लभ बाड़ी कोटा
8. श्री सुरेश वर्मा पुत्र स्वर्गीय श्री बाबुलाल जी वर्मा, जाति धोबी, उम्र 38 वर्ष, निवासी गणेश तालाब बसन्त बिहार दादबाड़ी कोटा
9. श्री रमेश वर्मा पुत्र श्री हिरालाल, जाति धोबी, उम्र 38 वर्ष, निवासी नाथपुरम मकान न. 507 कोटा
10. श्री बिमल पुत्र स्वर्गीय श्री दिलीप वर्मा, जाति धोबी, उम्र 30 वर्ष, निवासी 1/250 गणेश तालाब बसन्त बिहार दादाबाड़ी कोटा
11. श्री यश वर्मा पुत्र श्री मुकेश वर्मा, उम्र 11 वर्ष, निवासी 505 बसन्त बिहार कोटा दादाबाड़ी कोटा
12. सुश्री अंजनी वर्मा पुत्र श्री सुरेश वर्मा, जाति धोबी, निवासी 1/250 गणेश तालाब बसन्त दादाबाड़ी कोटा
13. श्री दिनेश वर्मा पुत्र श्री दुर्गाशंकर, जाति धोबी, उम्र 32 वर्ष, निवासी राजीव गांधी कच्ची बस्ती कोटा थाना गुमानपुरा कोटा
14. श्री लवीश पुत्र श्री दिनेश, जाति धोबी, उम्र 4 वर्ष, निवासी राजीव गांधी कच्ची बस्ती कोटा
15. श्रीमती मिथलेश उर्फ मोना वर्मा पत्नी श्री दिनेश वर्मा, जाति धोबी उम्र 34 वर्ष, निवासी राजीव गांधी कच्ची बस्ती कोटा
16. श्रीमती रेणु वर्मा पुत्र श्री गोपाललाल वर्मा, जाति धोबी, उम्र 42 वर्ष, निवासी जवाहनगर कोटा थाना जवाहरनगर कोटा
17. श्रीमती सोनिया वर्मा पत्नी श्री जितेन्द्र उर्फ जीतू, जाति धोबी उम्र 28 वर्ष, निवासी पुराना बाईपास बून्दी
18. श्रीमती वर्षा पुत्री श्री मुरली वर्मा पत्नी श्री विजय, जाति उम्र 24 वर्ष, निवासी 1/250 गणेश तालाब बसन्त बिहार कोटा
19. जीतु उर्फ जितेन्द्र पुत्र श्री बाबुलाल, धोबी, उम्र 28 वर्ष, निवासी पुराना बाई पास बून्दी
20. राहुल वर्मा पुत्र श्री सुरेश वर्मा धोबी, उम्र 22 वर्ष, निवासी 1/250 बसन्त बिहार दादाबाड़ी कोटा
21. महावीर प्रसाद पुत्र श्री भंवरलाल धोबी, उम्र 42 वर्ष, निवासी पलायथा थाना अन्ता जिला बारां
22. रूपा वर्मा पत्नी श्री सुरेश वर्मा, जाति धोबी, उम्र 34 वर्ष, निवासी 1/250 बसनत बिहार कोटा
23. कु. कन्नु पुत्री श्री जितेन्द्र उर्फ जीतु, उम्र 4 वर्ष, निवासी पुराना बाईपास रोड़ बून्दी
24. श्री श्याम सिंह पुत्र श्री शिवनारायण सिंह, जाति धोबी, चालक मिनी बस