उदयपुर: गैर सरकारी संस्था NSS ने करवाई 47 दिव्यांग जोड़ों की शादी

जोड़ों ने विवाह बंधन में बंधते हुए दहेज प्रथा के खिलाफ शपथ ली. एनएसएस इनमें 30 से ज्यादा जोड़ों का इलाज करा रहा है और उन्हें व्यावसायिक प्रशिक्षण दे रहा है.

उदयपुर: गैर सरकारी संस्था NSS ने करवाई 47 दिव्यांग जोड़ों की शादी
जोड़ों ने विवाह बंधन में बंधते हुए दहेज प्रथा के खिलाफ शपथ ली.

जयपुर: राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर (Udaipur) जिले में एक सामूहिक विवाह समारोह में 47 दिव्यांग जोड़े विवाह के बंधन में बंध गए. यह कार्यक्रम दिव्यांगों के लिए काम करने वाले एक गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) नारायण सेवा संस्थान (एनएसएस) ने रविवार को आयोजित किया.

यहां 34वें सामूहिक विवाह समारोह में जोड़ों ने विवाह बंधन में बंधते हुए दहेज प्रथा के खिलाफ शपथ ली. एनएसएस इनमें 30 से ज्यादा जोड़ों का इलाज करा रहा है और उन्हें व्यावसायिक प्रशिक्षण दे रहा है.

इस अवसर पर नवदंपत्तियों को एनएसएस के संस्थापक पद्मश्री कैलाश मानव अग्रवाल, कमला देवी अग्रवाल, अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल और निदेशक वंदना अग्रवाल ने आशीर्वाद दिया.

इस अवसर पर विवाह बंधन में बंधने वालों में प्रतापगढ़ की रामू कुमारी और गणपत के पिता की मौत हो चुकी थी. यह जोड़ा पोलियो से पीड़ित है. वे शादी करना चाहते थे, लेकिन योग्य साथी तलाश करने में यह दिव्यांगता ही उनका सबसे बड़ा रोड़ा थी. बाराबंकी निवासी अरविंद और सोनम भी यहीं पर विवाह बंधन में बंधे.

इनपुट- आईएएनएस