close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कंधे को चीरते हुए पीठ से पार हुआ लोहे का एंगल, फिर ऐसे बची जान

 रूह कंपा देने वाला हादसा:  5 फीट लंबा और 4 इंच चौड़ा लोहे का एंगल एक युवक के कंधे को चीरते हुए पीठ से पार हो गया.

कंधे को चीरते हुए पीठ से पार हुआ लोहे का एंगल, फिर ऐसे बची जान
तीन घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद बची युवक की जिंदगी.

अजमेर/किशनगढ़. राजस्थान के किशनगढ़ इलाके में सड़क हादसे के दौरान 5 फीट लंबा और 6 इंच चौड़ा लोहे का एंगल एक युवक के हाथ को चीरता हुआ कंधे से पार हो गया. आनन-फानन में घायल को जेएलएन अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां तीन घंटे चले ऑपरेशन के बाद उसके शरीर से एंगल निकाला गया. अब उसकी हालत खतरे से बाहर है. 

दरअसल, किशनगढ़ के रहने वाले कमल प्रजापत (25) शुक्रवार रात रूपनगढ़ में किसी शादी समारोह में शामिल होकर कार से अपने घर लौट रहे थे. इसी बीच हनुमानढ़ मेगा हाइवे पर रात के अंधेरे में एक ट्रक कार को ओवरटेक करने लगा. सामने से दूसरी गाड़ी आती देख ड्राइवर ने ट्रक साइड ली और कार को साइड से टक्कर मारते हुए घसीटता ले गया. इसी दौरान ट्रक की साइड में निकला लोहे का सरिया कमल के कंधे को चीरते हुए पीठ से पार हो गया. हादसे की सूचना मिलते ही एंबुलेंस से घायल को तत्काल किशनगढ़ के यज्ञनारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से उसे जेएलएन अस्पताल रेफर किया गया. 

पांच घंटे तक झेलता रहा दर्द
रात करीब 12 बजे हादसे के बाद लहूलुहान हालत में घायल कमल सड़क पर बेसुध पड़ा रहा. राहगीरों से सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया. मगर इन पांच घंटों तक उसने हिम्मत नहीं हारी. हालांकि, वह तेज दर्द की वजह से कराहता रहा. 

road accident, iron rod, iron angle, ajmer news
डॉक्टरों की टीम ने तीन घंटे तक ऑपरेशन करने के बाद इस लोहे के एंगल को युवक के शरीर से निकाला. 

8 डॉक्टरों की टीम रात में जुटी, तीन घंटे चला ऑपरेशन 
इस सीरियस केस को देखते हुए आठ डॉक्टरों की टीम आनन-फानन में अस्पताल पहुंची. इसके बाद रात 3 बजे से मरीज का ऑपरेशन शुरू किया गया, जो सुबह 6 बजे तक चलता रहा. ऑपरेशन के बाद उसे वेंटिलेटर पर रखा गया.