जयपुर: पीएम किसान सम्मान निधि में 63 लाख से अधिक किसानों का डाटा पोर्टल पर अपलोड

भारत सरकार स्‍तर पर पीएम किसान पोर्टल पर अपलोड किए गए आवेदन पत्रों में से 62 लाख 54 हजार 316 कृषकों के आवेदन पत्रों की जांच की जा चुकी है. 

जयपुर: पीएम किसान सम्मान निधि में 63 लाख से अधिक किसानों का डाटा पोर्टल पर अपलोड
शेष रहे किसानों का आधार वेरिफिकेशन कार्य चल रहा है.

जयपुर: उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने आज सदन में प्रश्नकाल के दौरान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत पात्रताधारी किसानों का मामला उठाया. उन्होंने कहा कि योजना के तहत कितने किसान पात्रता रखते हैं और कितने किसानों को योजना का लाभ मिल पाया है.

जिस पर मंत्री लालचंद कटारिया ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना स्‍वैच्छिक है एवं योजना में आवेदन करना कृषक की इच्छा पर निर्भर है. 6 फरवरी 2020 तक 67 लाख 10 हजार 471 किसानों ने आवेदन किया. जिला स्‍तर पर सत्‍यापन के बाद 63 लाख 41 हजार 441 आवेदन पीएम किसान पोर्टल पर अपलोड किए गए.

भारत सरकार स्‍तर पर पीएम किसान पोर्टल पर अपलोड किए गए आवेदन पत्रों में से 62 लाख 54 हजार 316 कृषकों के आवेदन पत्रों की जांच की जा चुकी है. शेष आवेदन पत्रों की जांच होना केंद्र सरकार स्‍तर पर लंबित है. उन्होंने कहा कि 50 लाख 20 हजार कृषकों का आधार वेरिफिकेशन हो चुका है.

शेष रहे किसानों का आधार वेरिफिकेशन कार्य चल रहा है, जिस पर राठौड़ की ओर से पूरक प्रश्न करते हुए कहा कि अभी तक किसानों को 2019-20 में कुल कितने किसानों के खातों में पहली, दूसरी, तिसरी और चौथी किश्त की राशि जमा हो चुकी है. 

जिस पर मंत्री कटारिया ने कहा कि 6 फरवरी तक 47 लाख 32 हजार 573 किसानों को पहली किश्त, 46 लाख 50 हजार किसानों को दूसरी किश्त और 36 लाख 51 हजार किसानों को तीसरी किश्त एवं 15 लाख 85 हजार किसानों के खाते में चौथी किश्त का पैसा भी जमा हो चुका. शेष रहे किसानों के सत्यापन का कार्य भी शीघ्र पूरा किया जाएगा.