close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान छात्रसंघ चुनाव में रिकाउंटिंग के बाद ABVP और NSUI ने स्वीकार की अपनी हार

एनएसयूआई से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ने वाली पूजा वर्मा ने एनएसयूआई के उत्तम चौधरी को 676 मतों से हराया. पूजा वर्मा को कुल 3890 वोट मिले. 

राजस्थान छात्रसंघ चुनाव में रिकाउंटिंग के बाद ABVP और NSUI ने स्वीकार की अपनी हार
मतगणना के बाद दोनों पार्टियों ने रिकाउंटिंग की मांग की.

जयपुर: प्रदेश की सबसे बड़ी यूनिवर्सिटी राजस्थान विश्वविद्यालय में लगातार चौथे साल एक बार फिर से निर्दलीय ने जीत का परचम लहराया. राजस्थान विश्वविद्यालय ने पहली बार लगातार चौथे साल निर्दलीय उम्मीदवार को अपना 37वां अध्यक्ष चुनाकर इतिहास रच दिया. एनएसयूआई से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ने वाली पूजा वर्मा ने एनएसयूआई के उत्तम चौधरी को 676 मतों से हराया. पूजा वर्मा को कुल 3890 वोट मिले. 

राजस्थान विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में लगातार चौथी बार निर्दलीय प्रत्याशी ने बाजी मारी है. इससे पहले वर्ष 2018 में विनोद जाखड़, 2017 में निर्दलीय पवन यादव तथा 2016 में अंकित धायल ने निर्दलीय उम्मीदवार के रुप में अध्यक्ष चुने गए थे. इस बार एनएसयूआई की बागी पूजा वर्मा ने एनएसयूआई के उत्तम चौधरी को 676 मतों से हराया.

पूजा को 3890 मत मिले जबकि उत्तम चौधरी को 3214 तथा एबीवीपी के अमित बडबडवाल को 2975 मत मिले. इसी तरह उपाध्यक्ष पद पर एनएसयूआई की प्रियंका मीणा तथा महासचिव पद पर एनएसयूआई के महावीर गुर्जर विजयी हुए. वहीं संयुक्त सचिव पद पर एबीवीपी की किरण मीणा ने जीत हासिल की.

तो वहीं दूसरी ओर हार के बाग ये एबीवीपी के अमित कुमार बड़बड़वाल और एनएसयूआई के उत्तम चौधरी के चेहरे पर निराशा झलक रही थी. मतगणना के बाद दोनों ने ही रिकाउंटिंग की मांग की, जिसके बाद एक बार रिकाउंटिंग की गई. हालाकि रिकाउंटिंग के बाद भी चुनाव परिणाम में कोई बदलाव नहीं हुआ. तब जाकर अपनी हार को दोनों ही छात्र नेताओं ने अपनी हार को स्वीकार किया.

हालांकि टिकट वितरण के समय लग रहा था कि मुकाबला इस बार दोनों छात्र संगठनों के बीच होगा. लेकिन वोटिंग के दिन नजदीक आते आते यह समीकरण अब बागियों के दमखम पर टिक गए थे. अध्यक्ष पद पर बात करें तो अध्यक्ष पद पर पांच प्रत्याशी थे. हालांकि मुकाबले में तीन प्रत्याशी आगे दिख रहे थे. जिसमें एबीवीपी के अमित बडबडवाल और एनएसयूआई के उत्तम चौधरी को एनएसयूआई की बागी प्रत्याशी पूजा वर्मा चुनौती देते दिखने लगीं.