टोंक: ACB ने रिश्वत लेते हुए जिला शिक्षाधिकारी को किया गिरफ्तार

मुख्य जिला शिक्षाधिकारी शिवजी राम यादव को बिचौलिए व्याख्याता सीताराम अग्रवाल के साथ जयपुर एसबी ने 96 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोच लिया.

टोंक: ACB ने रिश्वत लेते हुए जिला शिक्षाधिकारी को किया गिरफ्तार
फिलहाल, मामले से जुड़े दूसरे दस्तावेज और फाइले भी खंगाली जा रही है.

टोंक: राजस्थान के टोंक जिले में एक बार फिर से शिक्षा का मंदिर शर्मशार हुआ है. शिक्षक जिनको लोग भगवान से पहले पूजते हैं, उन्ही गुरूजी ने इसे दागदार किया है. दरअसल, बुधवार को टोंक में शिक्षा विभाग में मुख्य जिला शिक्षाधिकारी शिवजी राम यादव को बिचौलिए व्याख्याता सीताराम अग्रवाल के साथ जयपुर एसबी (ACB) ने 96 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोच लिया.

एसीबी जयपुर ग्रामीण इंस्पेक्टर नीरज भारद्वाज ने बताया कि, बीते दिनों एक शिक्षक हिमांशु सोमानी ने शिकायत दर्ज करवाई थी कि, परीक्षा के पेपर छपवाने के दौरान मुख्य जिला शिक्षाधिकारी शिवजी राम यादव ने जबरन विभागीय कार्रवाई कर आवश्यक फाइलें और दस्तावेज स्कूल से जब्त कर लिए थे.

मामले को निपटाने के लिए बिचौलिए व्याख्याता सीताराम अग्रवाल ने पैरवी की और 50 हजार रूपए मांगे और जब इसका सत्यापन करवाया तो, शिकायत सही पाई गई. इसके बाद, एसीबी ब्यूरो की ओर रुपए देकर भेजा तो उन रुपए को लेने से इनकार कर दिया और दूसरी राशि मांगी तो 46 हजार रुपए की दूसरी राशि परिवादी द्वारा उनकों दी गई.

इस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए दोनों ही राशियां बरामद कर ली गई है और दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है. फिलहाल, मामले से जुड़े दूसरे दस्तावेज और फाइले भी खंगाली जा रही हैं.