Rajasthan: उत्तरायण के बाद एक बार फिर छाया घना कोहरा, वापस आई सर्दी

उत्तरायण के बाद लगभग सर्दी (Winter) की विदाई मानते हैं और सर्दी धीरे धीरे कम होने लगती है, लेकिन इस बार चल रहे मौसम में बदलाव (Weather Update) के बाद उत्तरायण के ठीक पांच दिन बाद मौसम ने पलटी मारी है. 

Rajasthan: उत्तरायण के बाद एक बार फिर छाया घना कोहरा, वापस आई सर्दी
डीडवाना से निकलने वाले किशनगढ़ रतनगढ़ मेगा हाइवे पर भी घने कोहरे का खासा असर देखने को मिल रहा है.

नागौर: उत्तरायण के बाद लगभग सर्दी (Winter) की विदाई मानते हैं और सर्दी धीरे धीरे कम होने लगती है, लेकिन इस बार चल रहे मौसम में बदलाव (Weather Update) के बाद उत्तरायण के ठीक पांच दिन बाद मौसम ने पलटी मारी है. बीती रात से ही हल्के बादल छाने के साथ शीतलहर (Cold) जारी थी. 

वहीं, आज तड़के से ही नागौर जिले भर में घना कोहरा (Fog) छाए होने की खबर है. डीडवाना और आसपास के ग्रामीण क्षेत्र में घना कोहरा छाया हुआ है. वहीं, लाडनूं मौलासर और कुचामन कस्बे में भी कोहरा छाया हुआ है. घने कोहरे की वजह से क्षेत्र में एकबार फिर धूजणी छुड़ा दी है. जो सर्दी उत्तरायण के बाद कम हुई थी वो सर्दी एकबार फिर लौटकर आ गई है. 

डीडवाना से निकलने वाले किशनगढ़ रतनगढ़ मेगा हाइवे पर भी घने कोहरे का खासा असर देखने को मिल रहा है. मेगा हाइवे पर दस फ़ीट से भी कम की विजबलिटी देखने को मिल रही है. घने कोहरे और कम विजबलिटी के कारण वाहन चालक हादसे की आशंका में अपने वाहनों को धीरे धीरे कम गति में चला रहे है, जिससे मेगा हाइवे पर यातायात काफी प्रभावित हुआ है. 

वहीं, आज का कोहरा रिमझिम फुंहारो के साथ बरस रहा है जो किसानों के लिए फायदेमंद साबित होगा. खेती किसानी के लिहाज से किसानों को एक और सिंचाई नहीं करनी पड़ती. वहीं, इसकी नमी जमीन में दी तीन दिन तक रहती है जिससे फसलो को फायदा होता है.

ये भी पढ़ें: Rajasthan में लागू रहेगा Lockdown, School खुलने को लेकर जारी हुआ यह आदेश...