कोटा: कृषि अनुसंधान समन्वय समिति की बैठक आयोजित, संभागीय आयुक्त ने दिए अहम निर्देश

संभागीय आयुक्त ने मृदा स्वास्थ्य कार्ड, कृषि की विभिन्न योजनाओं, कृषि तकनीकों के ज्ञान एवं प्रचार-प्रसार हेतु कृषि मित्रों के साथ-साथ सीएडी के अभियंताओं को सक्रिय सहयोग लेने का आव्हान किया.

कोटा: कृषि अनुसंधान समन्वय समिति की बैठक आयोजित, संभागीय आयुक्त ने दिए अहम निर्देश
यहां खरीफ-2020 के प्रस्तावित कार्यक्रम के विषय में विस्तार से जानकारी दी गई.

कोटा: क्षेत्रीय विकास आयुक्त के.सी. मीणा की अध्यक्षता में सीएडी कोटा की अनुसंधान ईकाई नान्ता फार्म की कृषि अनुसंधान समन्वय समिति की बैठक, सीएडी सभागार में आयोजित की गई. बैठक में संभागीय आयुक्त ने मृदा स्वास्थ्य कार्ड, कृषि की विभिन्न योजनाओं, कृषि तकनीकों के ज्ञान एवं प्रचार-प्रसार हेतु कृषि मित्रों के साथ-साथ सीएडी के अभियंताओं को सक्रिय सहयोग लेने का आव्हान किया.

उन्होंने कृषि मित्रों का व्यापक स्तर पर प्रशिक्षण भी आयोजित करने की बात कही. साथ ही, क्षेत्रवार कृषि मित्रों के पहचान पत्र बनाने और क्षेत्र के ग्रामीणों एवं काश्तकारों की इसकी जानकारी भी देने के निर्देश दिए.

परियोजना निदेशक शस्य डॉ कल्पना शर्मा ने गत बैठक की अनुपालना की कार्यवाही से अवगत कराया. खरीफ-2019 में अनुसंधान केन्द्र पर किए गए परीक्षणों के परिणाम एवं खरीफ-2020  के प्रस्तावित कार्यक्रम के विषय में विस्तार से जानकारी दी.

कृषि विश्वविद्यालय, नान्ता फार्म द्वारा खरीफ-2019 में किए गए परीक्षण के आधार पर सोयाबीन की नई किस्म एनआारसी-127, जो की भोजन में प्रोंटीन की कमी को दूर करने में सहायक होती हैं. बैठक में इसके बारे में विस्तृत जानकारी दी गई. बैठक में कृषि विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. रामावतार शर्मा, सीएडी के अभियंता, कृषि वैज्ञानिक उपस्थित रहे.