close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अजमेर: स्वास्थ्य विभाग ने पैथोलॉजी लैब्स के लिए जारी की नई गाइडलाइन

अब रजिस्ट्रेशन का सारा काम ऑनलाइन किया जाएगा ताकि उपलब्ध डाटा का दूसरी योजनाओ में भी इस्तेमाल किया जा सके. 

अजमेर: स्वास्थ्य विभाग ने पैथोलॉजी लैब्स के लिए जारी की नई गाइडलाइन
विभाग ने अब लैब्स के रजिस्ट्रेशन के लिए 31 अगस्त की समय सीमा तय की है.

मनवीर सिंह/अजमेर: प्रदेश के अजमेर में स्वास्थ्य विभाग ने पैथोलॉजी लैब्स के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी हैं. अब जिले में मौजूद सभी पैथोलॉजी लैब्स को 31 अगस्त से पहले रजिस्ट्रेशन कराना होगा. तय समय पर रजिस्ट्रेशन न होने पर लैब्स से भारी जुर्माना वसूला जाएगा.

वहीं इस मामले में देर से ही सही लेकिन आखिरकार स्वास्थ्य विभाग को अजमेर में चल रही पैथोलॉजी लैब्स की सुध लेने का समय मिल ही गया. जिले भर में चल रहीं हजारों पैथोलॉजी लैब्स लम्बे समय से सरकार की आंखों में धूल झोंक कर बिना रजिस्ट्रेशन के ही संचालित हो रहीं थीं. विभाग ने अब ऐसी लैब्स के रजिस्ट्रेशन के लिए 31 अगस्त की समय सीमा तय की है. तय समय पर रजिस्ट्रेशन नहीं कराने पर पांच लाख रूपये का जुर्माना वसूला जाएगा. मौजूदा समय में अजमेर में दो हजार से ज्यादा पैथोलॉजी लैब्स संचालित हो रही हैं. यह सभी लैब्स अभी तक बिना रजिस्ट्रेशन के ही संचालित हो रही थीं, लेकिन अब पैथोलॉजी लैब्स का संचालन बिना रजिस्ट्रेशन के सम्भव नहीं होगा.

इस पूरे मामले में ख़ास बात यह है कि सरकार की तरफ से जुर्माने के रूप में पांच लाख की राशि भले ही तय की गयी हो लेकिन रजिस्ट्रेशन फीस मात्र कुछ सौ रुपये ही निर्धारित की गई है. आउटडोर वाले अस्पतालों में यह फीस मात्र दो सौ रूपये है जबकि ग्रामीण इलाको में यह फीस पचास से सौ रूपये के बीच है. रजिस्ट्रेशन का सारा काम ऑनलाइन किया जाएगा ताकि उपलब्ध डाटा का दूसरी योजनाओ में भी इस्तेमाल किया जा सके. नई गाइड लाइन के मुताबिक सभी पैथोलॉजी लैब्स को ट्रेंड स्टाफ रखने के भी निर्देश दिए गए है. 

पैथोलॉजी लैब्स के लिए जारी की गई नई गाइड लाइन मरीजों के हित में करार दी जा रही है. ऐसा माना जा रहा है कि नए नियम लागू होने के बाद अब पैथोलॉजी लैब्स पर सरकार और चिकित्सा विभाग का प्रभावी नियंत्रण रह पायेगा.