प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविर में कांग्रेसी नेताओं में तीखी नोंकझोंक, वीडियो हो रहा वायरल
X

प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविर में कांग्रेसी नेताओं में तीखी नोंकझोंक, वीडियो हो रहा वायरल

शिविर में विधायक मद की राशि नहीं मिलने को लेकर कांग्रेसी नेताओं में जमकर तीखी नोंकझोंक हो गई.

प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविर में कांग्रेसी नेताओं में तीखी नोंकझोंक, वीडियो हो रहा वायरल

Bhilwara: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) प्रशासन गांवों के संग अभियान को लेकर गम्भीरता दिखा रहे हैं. वहीं, कुछ जगह कांग्रेसी नेता (Congress Leaders) शिविरों को राजनीतिक अखाड़ा बना कर विफल करने में लगे हैं. इन नेताओं की आपसी गुटबाजी से शिविरों में आमजन के काम भी अटकने लगे हैं. ऐसा ही एक मामला मांडलगढ़ क्षेत्र के जस्सू जी का खेड़ा में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविर में देखने को मिला.

शिविर में विधायक मद की राशि नहीं मिलने को लेकर कांग्रेसी नेताओं में जमकर तीखी नोंकझोंक हो गई. शिविर में हंगामे का वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर जमकर वायरल हो रहा हैं. शिविर में पूर्व विधायक विवेक धाकड़ (Vivek Dhakad) मंच से सम्बोधन कर रहे थे, और उनके द्वारा विधायक कार्यकाल में कराए गए विकास कार्यों की जानकारी दे रहे थे. इस बीच जस्सूजी का खेड़ा पूर्व सरपंच भेरूलाल गुर्जर ने धाकड़ के सम्बोधन पर आपत्ति जताई. 

यह भी पढ़ें- सावित्री माता पहाड़ी से सटे जंगल में युवती की लाश मिलने से सनसनी, जांच में जुटी पुलिस

धाकड़ द्वारा विधायक कार्यकाल में पंचायत में पेयजल (Drinking Water) के लिए 10 लाख की राशि विधायक मद से देने की घोषणा की गई थी, लेकिन विधायक मद से राशि आजतक नहीं मिली और शिविर में राजनीति करने का भी आरोप लगाया.

इस दौरान दोनों नेताओं में काफी देर तक जमकर नोंकझोंक हुई और शिविर में हंगामा खड़ा हो गया. शिविर में हंगामे को लेकर कांग्रेस नेता धाकड़ ने शिविर रद्द करने की बात कह डाली. हंगामे के बीच दोनों कांग्रेसी नेताओं को प्रशासन के अधिकारियों व बीजेपी विधायक (BJP MLA) ने समझाइश कर मामले को शान्त कराया. और शिविर में ही हाथों-हाथ विधायक गोपाल खंडेलवाल (Gopal Khandelwal) ने पेयजल एवं विकास कार्य के लिए विधायक मद से 10 लाख की राशि का अनुशंसा पत्र जारी कर दिया.

यह भी पढ़ें- Tonk: ठेकेदार और नगर पालिका कार्मिकों के बीच विवाद, ज्ञापन देकर की गिरफ्तारी की मांग

शिविर में हंगामे के बाद पूर्व विधायक धाकड़ अपने समर्थकों के साथ शिविर छोड़ कर चले गए. अतिथि के रूप में पूर्व सरपंच द्वारा भेंट किए गए साफे को भी उतार कर मंच पर छोड़कर चले गए. 
Report- Piru Mansoori

Trending news