जारी है मूर्तियों से छेड़छाड़ का सिलसिला, अब राजस्थान और यूपी में आंबेडकर की मूर्ति तोड़ी

अरचोल में बाबा साहेब की मूर्ति का सिर तोड़ दिया गया है. इलाके के लोगों से गुरुवार सुबह जब मूर्ति के सिर को टूटा पाया तो पुलिस को जानकारी दी. 

जारी है मूर्तियों से छेड़छाड़ का सिलसिला, अब राजस्थान और यूपी में आंबेडकर की मूर्ति तोड़ी
इससे पहले राजस्थान के राजसमंद नाथद्वारा में महात्मा गांधी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया गया था. (फोटो साभार : ANI)

जयपुर : देश में मूर्तियों से छेड़छाड़ का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. राजस्थान के अरचोल में भारत के संविधान निर्माता डॉ. भीमराव आंबेडकर की मूर्ति को कुछ अराजक तत्वों ने बुधवार (4 अप्रैल) देर रात नुकसान पहुंचाया. रिपोर्ट्स के मुताबिक अरचोल में बाबा साहेब की मूर्ति का सिर तोड़ दिया गया है. इलाके के लोगों से गुरुवार सुबह जब मूर्ति के सिर को टूटा पाया तो पुलिस को जानकारी दी.

इलाके में फैला तनाव
बाबा साहेब की मूर्ति टूटने के बाद पूरे इलाके में तनाव का माहौल है. हालातों को काबू में करने और इलाके में शांति बनाए रखने के लिए प्रशासन की ओर से, इलाके में पुलिस बल को तैनात किया गया है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस बात की जांच की जा रही है कि आखिरकार किसने बाबा साहेब की मूर्ति को नुकसान पहुंचाया. पुलिस अधिकारियों ने लोगों को आश्वासन दिया है कि जल्द ही आरोपियों को हिरासत में लेकर कार्रवाई की जाएगी. 

 

 

फिरोजाबाद में भी आंबेडकर की मूर्ति से छेड़छाड़
राजस्थान के अलावा गुरुवार को यूपी के फिरोजाबाद जिले में भी आंबेडकर की मूर्ति से छेड़छाड़ का मामला सामने आया हैं. यहां पर कुछ अराजक तत्वों ने मूर्ति के हाथों को नुकसान पहुंचाया है.

 

 

इससे पहले तोड़ी गई थी गांधी की प्रतिमा
उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले ही राजस्थान के राजसमंद नाथद्वारा में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया गया था. उस वक्त अराजक तत्वों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा से सिर को गायब कर दिया था. 

त्रिपुरा से शुरू हुआ सारा विवाद
दक्षिण त्रिपुरा में भाजपा कार्यकताओं द्वारा रूसी कम्युनिस्ट क्रांतिकारी व्लादिमीर लेनिन की दो प्रतिमाएं तोड़े जाने के बाद त्रिपुरा और पश्चिम बंगाल सहित देश के विभिन्न हिस्सों में हिंसा भड़क उठी है. इससे पहले आई रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को बेलोनिया में भाजपा कार्यकर्ताओं ने एक बुलडोजर की मदद से 11.5 फीट ऊंची लेनिन की प्रतिमा को गिरा दिया था. 

कांग्रेस ने बीजेपी और RSS को बनाया निशाना
वहीं, इस मामले में कांग्रेस ने बीजेपी और आरएसएस को निशाना बनाया है. कांग्रेस ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि वह इन सारी घटनाओं को खुद अंजाम दे रही है.