पायलट का मोदी सरकार पर हमला, कहा-कृषि कानूनों में संशोधन किसानों पर प्रहार

सचिन पायलट ने कहा कि मंडी बंद, हाट बंद, मजदूरी बंद और समर्थन मूल्य बंद हो जाएगा तो यह किसानों के लिए घातक साबित होगा.

पायलट का मोदी सरकार पर हमला, कहा-कृषि कानूनों में संशोधन किसानों पर प्रहार
राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम हैं सचिन पायलट. (फाइल फोटो)

जयपुर: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने केंद्र सरकार के कृषि संशोधन कानूनों को किसानों पर घातक प्रहार बताया है. मध्यप्रदेश में होने जा रहे विधानसभा उपचुनाव में प्रचार करने आए पूर्व केंदीय मंत्री पायलट ने मंगलवार को मौजूदा केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना की और कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने कृषि कानूनों में जो संशोधन किया है, वह किसानों के ऊपर घातक प्रहार है.

उन्होंने कहा कि मंडी बंद, हाट बंद, मजदूरी बंद और समर्थन मूल्य बंद हो जाएगा तो यह किसानों के लिए घातक साबित होगा. कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने शिवपुरी जिले की पोहरी और करैरा विधानसभा क्षेत्रों में जनसभाओं को संबोधित किया. 

इस दौरान बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि मप्र में शिवराज सरकार पिछले दरवाजे से सरकार में आ गई है, लेकिन लोकतंत्र में सबसे बड़ी ताकत जनता होती है और उसी के पास नेताओं को वोट मांगने के लिए आना पड़ता है. इसलिए इस विधानसभा उपचुनाव में जनता सोच-समझकर निर्णय करे और देश को बांटने वाली ताकतों को परास्त करे.

उन्होंने कांग्रेस के पक्ष में वोट देने की अपील करते हुए कहा कि यही पार्टी है जो देश की आजादी के पहले से जनहित व देशहित में काम कर रही है. बता दें कि मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर 3 नवंबर को मतदान होना है, जबकि 10 नवंबर को नतीजे आएंगे. इस चुनाव के नतीजे जहां एक तरफ एमपी में शिवराज सिंह चौहान की सरकार के लिए बहुत महत्वपूर्ण तो वहीं, कई नेताओं के सियासी भविष्य भी इस चुनाव के नतीजे पर निर्भर हैं. 

(इनपुट-आईएएनएस)