नागौर में एक और महिला कांस्टेबल हुई कोरोना पॉजिटिव, प्रशासनिक लापरवाही आयी सामने

नागौर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. नागौर जिले का एक नया शहर कोरोना की गिरफ्त में आ गया है.

नागौर में एक और महिला कांस्टेबल हुई कोरोना पॉजिटिव, प्रशासनिक लापरवाही आयी सामने
प्रतीकात्मक तस्वीर

हनुमान तंवर, नागौर: राजस्थान के नागौर में कोरोना (Coronavirus) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. नागौर जिले का एक नया शहर कोरोना की गिरफ्त में आ गया है. कुचामन शहर की रहने वाली महिला कांस्टेबल की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के साथ ही नागौर जिले में पॉजिटिव के संख्या 63 हो गई है, लेकिन मंगलवार पॉजिटिव आई महिला कॉन्स्टेबल एक नए शहर को कोरोना की गिरफ्त में ला दिया है.

इस मामले ने कहीं न कहीं प्रशासनिक लापरवाही की भी पोल खोल दी है. जो महिला कॉन्स्टेबल मंगलवार को पॉजिटिव आई है वह पहले से परबतसर में पॉजिटिव आई महिला कॉन्स्टेबल के साथ ड्यूटी कर चुकी थी, जिसके बाद नियमानुसार उसे क्वारंटाइन किया जाना चाहिए था, लेकिन उसे होम आइसोलेट कर दिया गया. जिससे उसके परिजनों में भी अब संक्रमण फैलने की पूरी संभावना है और उसके परिजनों के जरिये उनके संपर्क में आये लोगों में संक्रमण से इनकार नहीं किया जा सकता है. 

हालांकि, पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी अब इस मामले की जांच की बात कह रहे हैं, लेकिन कहीं ना कहीं कुचामन शहर को कोरोना की आग में धकेलने के पीछे प्रशासन की लापरवाही सामने आ रही है. बहरहाल कॉन्स्टेबल के परिजनों को आइसलेट किया गया है और आसपास के क्षेत्र को चिन्हित करके कर्फ्यू लगाने की तैयारी की जा रही है. 

कोलकाता कॉम्प्लेक्स को पूरी तरह से सेनेटाइज किया गया है और कॉम्प्लेक्स में रहने वाले सभी 20 परिवारों की भी स्वास्थ्य जांच करवाई जाएगी. वहीं, महिला पुलिसकर्मी के पॉजिटिव आने का यह दूसरा मामला सामने आने के बाद अब जिले भर में पुलिसकर्मियों में भी यह मामला चर्चा में बना हुआ है.

 

ये भी पढ़ें: कसौटी पर खरी नहीं उतरी रैपिड टेस्टिंग किट, स्वास्थ्य विभाग ने ICMR को लिखी चिट्ठी