थलसेना अध्यक्ष बिपीन रावत ने कहा- शांति के लिए सेना करती है युद्ध

थलसेना अध्यक्ष बिपीन रावत ने रविवार के एक दिवसीय दौरे के दौरान यहां पर वीर शहीदों को श्रद्धाजंली कार्यक्रम में भाग लिया है.

थलसेना अध्यक्ष बिपीन रावत ने कहा- शांति के लिए सेना करती है युद्ध
माउण्ट आबू स्थित ब्रह्माकुमारीज संस्था में सेना प्रमुख विपिन रावत.

साकेत गोयल, सिरोही: थलसेना अध्यक्ष बिपीन रावत रविवार को सिरोही जिले के आबूरोड व माउंट आबू दौर पर पहुंचे हुए थें. जहां वे ब्रहमाकुमारीज संस्था के शांतिवन परिसर मे आयोजित ''वीर शहीदों को श्रद्धाजंली कार्यक्रम'' में भाग लिया था. इससे पूर्व थल सेना अध्यक्ष रावत का मानपुर हवाई पट्टी पर पहुंचने के बाद सेना के अधिकारियों और ब्रहमाकुमारीज संस्था के पदाधिकारीयों ने फूल देकर स्वागत भी किया.

 थलसेना अध्यक्ष बिपीन रावत ने रविवार के एक दिवसीय दौरे के दौरान यहां पर वीर शहीदों को श्रद्धाजंली कार्यक्रम में भाग लिया है. इस दौरान उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि सेना का कार्य बोर्डरों पर सुरक्षा के साथ शांति का पैगाम देना है. सेना जो भी युद्ध करती है, उसका उद्देश्य धरती पर शांति लाने का प्रयास है. ब्रहमाकुमारी संस्थान भी अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर यह कार्य कर रही है. 

उन्होने यह भी कहां कि उनके पिता भी इस संस्था से जुडे हुए रहे है. संस्थान के विभिन्न कार्यालयों पर उन्होंने अपनी सेवाएं दी है. उन्होने यह भी कहां कि ब्रहमाकुमारी संस्थान विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य कर रही है जो कि एक सराहनीय प्रयास है.

थलसेना अध्यक्ष बिपीन रावत ने कार्यक्रम के दौरान शहीदों के परिवारों को भी सम्मानित किया. कार्यक्रम से पूर्व थलसेना अध्यक्ष बिपीन माउंट आबू भी गए. कार्यक्रम से पूर्व थलसेना अध्यक्ष बिपीन माउंट आबू भी गए.

आपको बता दें कि, ब्रह्माकुमारीज एक आध्यात्मिक संस्थान है जिसकी स्थापना 1937 में की गई थी. इसका मुख्यालय राज्य के माउण्ट आबू में है. संस्था के स्थापना प्रजापिता ब्रह्मा बाबा ने की थी.