close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झुंझुनूं में सेना भर्ती रैली हुई शुरू, पहले दिन दौड़े 3 हजार युवा

झुंझुनूं(Jhunjhunu) में गुरुवार से से सेना भर्ती रैली शुरू हुई. यह रैली 10 दिनों तक चलेगी. 

झुंझुनूं में सेना भर्ती रैली हुई शुरू, पहले दिन दौड़े 3 हजार युवा
सेना भर्ती रैली में दौड़ते अभ्यर्थी.

संदीप केडिया, झुंझुनूं: झुंझुनूं(Jhunjhunu) में गुरुवार से से सेना भर्ती रैली शुरू हुई. यह रैली 10 दिनों तक चलेगी. जिसमें बीकानेर(Bikaner) और झुंझुनूं(Jhunjhunu) के युवाओं को मौका मिलेगा. भर्ती रैली के लिए करीब 39 हजार से अधिक युवाओं ने अपना पंजीयन करवाया है. 

पहली बार यह भर्ती झुंझुनूं मुख्यालय के स्वर्ण जयंती स्टेडियम में हो रही है. गुरुवार को पहले दिन उदयपुरवाटी तहसील के युवाओं को मौका दिया गया. इसके अलावा वैटनरी के नर्सिंग असिस्टेंट्स के लिए आवेदन करने वाले युवाओं को दौड़ाया गया. 

नर्सिंग असिस्टेंट्स के लिए बीकानेर और झुंझुनूं के युवाओं ने दौड़ में हिस्सा लिया. आज चार हजार 143 युवाओं को आमंत्रित किया गया था. इनमें से तीन हजार 69 युवा पहुंचे. जिनमें से 459 ने दौड़ पास की. इसके बाद अन्य फिजीकल और मेडिकल टेस्ट(Medical Test) भी आज से शुरू कर दिए गए. 

सेना भर्ती निदेशक संदीप भारद्वाज ने पूरे दिन रैली स्थल पर व्यवस्थाओं को देखा. कल इसी क्रम में बीकोनर और झुंझुनूं जिले के सोल्जर टेक्निकल तथा सोल्जर क्लर्क व स्टोरकीपर्स की भर्ती के लिए युवाओं को बुलाया गया है.

चार दिनों तक केवल तहसीलवार दौड़ेंगे युवा
सेना भर्ती के लिए नौ से 12 नवंबर तक बीकानेर और झुंझुनूं की तहसील के युवाओं को दौडऩे का मौका दिया जाएगा. ये वे युवा होंगे, जिन्होंने सोल्जर जीडी और सोल्जर ट्रेडमेन के लिए अपना पंजीयन करवाया हुआ है. निर्धारित किए गए कार्यक्रम के मुताबिक नौ नवंबर को बीकानेर जिले की बीकानेर तहसील, पूगल, श्रीडूंगरगढ़, नोखा, कोलायत, 10 नवंबर को लूणकरणसर, खाजूवाला, छतरगढ़, झुंझुनूं जिले की चिड़ावा, मलसीसर, 11 नवंबर को नवलगढ़ व सूरजगढ़ तथा 12 नवंबर को बुहाना और झुंझुनूं तहसील के युवा दौड़ेंगे. इसके बाद 13 नवंबर खेतड़ी तहसील के युवाओं का नंबर आएगा. 

13 को पूरे राजस्थान से आएंगे युवा
13 नवंबर को सेना भर्ती में पूरे राजस्थान से युवा आएंगे. सेना भर्ती कार्यालय द्वारा जारी किए गए कार्यक्रम के मुताबिक 13 नवंबर को उन युवाओं को दौड़ के लिए बुलाया गया है. जिन्होंने डी फार्मा के तहत आवेदन किया हुआ है. वहीं इसी क्रम में 14 नवंबर को अलवर तहसील के युवाओं को भी बुलाया गया है. 

पहले दिन चाक चौबंद रही व्यवस्था, एडीएम रहे मौजूद
सेना भर्ती रैली के पहले दिन सुरक्षा और कानून व्यवस्था चाक चौबंद रही. एडीएम राजेंद्र अग्रवाल ने भी सेना भर्ती रैली का जायजा लिया. वहीं युवाओं के लिए खास प्रबंध भी किए गए. खासकर दौड़ में फेल होने वाले युवाओं को इधर-उधर घूमने नहीं दिया गया. उन्हें स्टेडियम के गेट से निकलने के बाद सीधा बस में बैठाकर रवाना किया गया. ताकि भीड़ भी ना हो और ना ही कोई हुड़दंग हो.

ठंड के बावजूद युवाओं ने दिखी 'गर्मी'
बुधवार देर रात से हो रही बारिश के कारण अचानक मौसम ठंडा हो गया था. बावजूद इसके युवाओं में उत्साह की कमी नहीं देखी गई. सुबह तीन बजे से ही स्टेडियम के मुख्य द्वार के सामने लाइन लगनी शुरू हो गई. वहीं युवाओं ने दौड़ में भी पूरी फूर्ति दिखाई.