close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बारां: पुलिस हिरासत में हुई युवक की मौत के मामले में दोषी अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज

मृतक के परिवार को 300000 का नकद मुआवजा और बाकी 2500000 रुपए का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजने का आश्वासन दिया गया.

बारां: पुलिस हिरासत में हुई युवक की मौत के मामले में दोषी अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज
सोमवार को शव का पोस्टमार्टम करने के बाद परिजनों को सौप दिया जायेगा.

राम मेहता/बारां: राजस्थान के बारां के मांगरोल में पुलिस हिरासत में हुई युवक की मौत के मामला देर रात चौथे दिन में जाकर सुलझ गया. खबर के मुताबिक पुलिस ने दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर ली है. साथ ही पुलिस ने एफआईआर की कॉपी परिजनों को भी सौंप दी है.

बता दें कि मांगरोल में पुलिस हिरासत में हुई गिर्राज माली की मृत्यु के मामले में बारां झालावाड़ सांसद दुष्यंत सिंह के दखल के बाद पुलिस अधीक्षक द्वारा दोषी पुलिस अधिकारियों के खिलाफ 302 में मामला दर्ज कर मामले का पटाक्षेप किया गया. इसके साथ मृतक के परिवार को 300000 का नकद मुआवजा और बाकी 2500000 रुपए का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजने का आश्वासन दिया गया. इसके बाद भाजपा नेताओं द्वारा सहमति बना ली गई. 

गौरतलब है कि स्थानीय कस्बे में 4 दिनों से इस मामले को लेकर परिजनों एवं बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा धरना प्रदर्शन कर राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की जा रही थी. भाजपा नेताओं द्वारा थाने के सामने धरने को संबोधित किया गया जिसमें बारां झालावाड़ सांसद दुष्यंत सिंह पूर्व मंत्री किरण माहेश्वरी ने संबोधित करते हुए स्थानीय लोगों को भरोसा दिलाया कि उनके साथ वह हर दुख दर्द व हुए अन्याय में वह आपके साथ खड़े हैं. साथ ही पूर्व मंत्री ने कहा कि यह लड़ाई सिर्फ आपकी नहीं बल्कि सबकी लड़ाई है. 

वहीं मिली जानकारी के मुताबिक पहले सांसद और किरण माहेश्वरी ने बंद कमरे में मृतक के परिजनों से वार्ता की. इसके बाद तहसील कार्यालय में जिला प्रशासन के प्रतिनिधि जिला कलेक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक से बंद कमरे में मीडिया से दूरी बनाते हुए वार्ता की जिसके बाद यह समाधान हो सका. साथ ही सोमवार को मेडीकल कॉलेज की टीम द्वारा शव का पोस्टमार्टम करने के बाद परिजनों को सौप दिया जायेगा.