बारां: सरकारी तंत्र की लापरवाही का शिकार हुआ बीपीएल परिवार, प्रशासन बेखबर

सरकारी तंत्र के उदासीन रवैए के चलते सहरिया परिवार के लोगों को सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का भरपूर लाभ नहीं मिल रहा है.

बारां: सरकारी तंत्र की लापरवाही का शिकार हुआ बीपीएल परिवार, प्रशासन बेखबर
परिवार के लोगों ने ने बताया कि कई माह से राशन सामग्री नहीं दी जा रही है.

राम मेहता/बारां: एक तरफ तो राजस्थान सरकार बारां जिलें के शाहबाद किशनगंज विधानसभा क्षेत्र में निवास करने वाले सहरिया गरीब वर्ग के लोगों को जन कल्याणकारी योजनाए चलाकर लोगों को लाभान्वित करने का प्रयास कर रही है. वहीं, दूसरी ओर सरकारी तंत्र के उदासीन रवैए के चलते सहरिया परिवार के लोगों को सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का भरपूर लाभ नहीं मिल रहा है.

यह मामला है, बारां जिलें की शाहबाद क्षेत्र की बैहठा ग्राम पंचायत क्षेत्र के किराड़ पहाड़ी, तेलनी गांव के बीपीएल पात्र राशन कार्डधारी सहरिया परिवारों की. खबर के मुताबिक इन परिवारों को सरकारी राशन की दुकानदार द्वारा समय पर राशन सामग्री नहीं दी जा रही है. साथ ही, सरकार से आने वाली सहरिया परिवारों की राशन सामग्री को खुर्द बुर्द कर पात्र बीपीएल सहरिया परिवारों वितरित नहीं किया जा रहा है.

राशन उपभोक्ताओं का कहना है कि राशन डीलर द्वारा राशन उपभोक्ताओं से पोस मशीन में फिंगरप्रिंट लगवा लिया जाता है, लेकिन राशन सामग्री नहीं दी जाती है. इस संबंध में राशन उपभोक्ताओं ने कई बार संबंधित विभाग के आला अधिकारियों से शिकायत कर दी है. वहीं, संबंधित विभाग के अधिकारी मामले को नजर अंदाज करते हुए अभी तक अनजान बने हुए हैं.

सुवेदा बाई और गैदा सहरिया ने बताया कि कई माह से राशन सामग्री नहीं दी जा रही है. वहीं, सहरिया परिवारों को मिलने वाला निःशुल्क घी, तेल गेंहू आदि का भी वितरण नहीं किया जा रहा है, अधिकारियों से शिकायत करते है लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है.

हालांकि, बारां  उपखंड अधिकारी दीनानाथ बब्बल ने बताया कि अगर सहरिया परिवारों को राशन डीलर द्वारा राशन सामग्री का वितरण नहीं किया जा रहा है और लापरवाही बरती जा रही है तो जांच करावाई जाएगी. जिसके बाद दोषियों पर उचित कार्रवाई की जाएगी.