बारां पुलिस ने किया 5 लाख की किडनैपिंग का खुलासा, बच्चे को बचाया, एक गिरफ्तार

 पुलिस ने गंभीरता से मामले को लिया और बालक की तलाश शुरू की गई.

बारां पुलिस ने किया 5 लाख की किडनैपिंग का खुलासा, बच्चे को बचाया, एक गिरफ्तार
एक दूसरे अन्य आरोपी को भी राउंड अप कर पूछताछ जारी है.

राम मेहता, बारां: जिले में 5 लाख की फिरौती के लिए किए गए बालक के अपहरण मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. बारां पुलिस ने  मध्यप्रदेश से अपहरण कर्ता के चुंगल से बालक को छुड़ाकर कर अपहरण करने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, वहीं, एक दूसरे अन्य आरोपी को भी राउंड अप कर पूछताछ जारी है.

बारां जिले के छबड़ा उपखंड के बापचा थाना क्षेत्र के खेरखेड़ा भूरा गांव में गत 27 जुलाई को घर में सो रहे बालक का अपहरण कर लिया गया था. इस मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी. पुलिस जांच में यह अपहरण 5 लाख रुपये फिरौती के लिए अपहरण का पाया गया. 

पुलिस ने इस अपहरण का पर्दाफाश करते हुए घटना के पांच दिन के अंदर ही बालक का पता लगाते हुए एमपी के कुंभराज थाना के बीनागंज चांचैड़ा से अपहरणकर्ताओं के ठिकाने पर दबिश देकर बालक को इनके चंगुल से छुड़ा लिया. इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, वहीं, दूसरे आरोपी को राउंड अप कर इसकी लिप्तता की जांच की जा रही है.

क्या कहना है पुलिस का
बारां एसपी डॉ. रवि सबरवाल ने पत्रकारों को बताया कि 27 जुलाई को खेरखेड़ा भूरा गांव में घर मे सो रहा पर्वत सिंह लोधा का 10 वर्षीय बालक रामेश्वर लोधा  गायब हो गया था. अपहरण कर्ताओं ने बालक के पिता को फोन करके पांच फिरौती की मांग की. वहीं, बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी. परिजनों ने अपहरण और फिरौती मांगने की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस ने गंभीरता से मामले को लिया और बालक की तलाश शुरू की गई.

पुलिस के सामने थी बड़ी चुनौती
एडिशनल एसपी बारां विजय स्वर्णकार की अगुवाई में छबड़ा पुलिस उप अधीक्षक ओमेंद्र सिंह, सीआई रामानन्द यादव और बापचा थाना धिकारी सहित जाब्ता की सेशल टीम बनाई. मोबाइल की कॉल डिटेल और आधुनिक पद्धति से जांच करने पर मामला अपहरण का पाया गया, जिसमें अपहरण कर्ताओं द्वारा 5 लाख की फिरौती बालक के पिता से मांगी गई अन्यथा बालक को जान से मारने की धमकी दी. पुलिस के सामने सबसे बड़ी चुनौती थी कि बालक सही सलामत वापस आए.

मौके से एक आरोपी गिरफ्तार
मोबाइल कॉल डिटेल और सायबर जांच पड़ताल में अपहरण कर्ता एमपी के गुना जिले के कुंभराज थाने के बीनागंज चांचैड़ा के पाए गए, जिस पर गुना एसपी से मदद लेकर छबड़ा, बापचा की पुलिस और कुंभराज पुलिस ने अपहरण कर्ताओं के ठिकाने का पता लगा कर छापा मारा एवं मौके से एक लोग को गिरफ्तार किया. कुछ आरोपी भागने में सफल रहे, जिनकी तलाश जारी है. बालक को अपहरण कर्ताओं के चंगुल से छुड़ा लिया और उसके परिजनों के हवाले कर दिया. इस मामले में एक ओर आरोपी को राउंड अप कर उसकी लिप्तता की जांच और पूछताछ की जा रही है. 

पांच दिन बाद बालक को उसके माता-पिता मिले तो वह लिपट गए. पुलिस ने गुलदस्ता भेंट कर और केडबरी सेलिब्रेशन गिफ्ट देकर इसके परिजनों को संभलाया. उन्होंने बताया की फिरौती देने की जरूरत नहीं पड़ी. बालक की जान बचाने के लिए फिरौती देने की जरूरत पड़ती तो वह भी देते, फिर गिरफ्तारी होती.