विशेष योग्यजनों को समाज में समान अवसर देने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- मास्टर भंवरलाल

मंत्री मेघवाल मंगलवार को एच. सी. एम. रीपा के भगवंत सिंह सभागार में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस (International Day of Disability) के राज्य स्तरीय समारोह में संबोधित कर रहे थे. 

विशेष योग्यजनों को समाज में समान अवसर देने के लिए सरकार प्रतिबद्ध- मास्टर भंवरलाल
विशेष योग्यजन की पेंशन भी बढ़ाकर एक हजार 250 रुपये कर दी गई.

जयपुर: विशेष योग्यजनों को समाज में समान अवसर देने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है और उन्हें मुख्यधारा से जोड़ने के लिए राज्य सरकार हर संभव मदद करेगी, यह कहना था मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल (Bhanwarlal Meghwal) का.

मंत्री मेघवाल मंगलवार को एच. सी. एम. रीपा के भगवंत सिंह सभागार में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस (International Day of Disability) के राज्य स्तरीय समारोह में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार विशेष योग्यजनों को आत्मसम्मान के साथ जीवन सशक्त करने तथा राज्य की प्रगति में योगदान करने के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित कर रही है. राज्य सरकार द्वारा सरकारी नौकरी में विशेष योग्यजनों को आरक्षण 3 प्रतिशत से बढ़ाकर 4 प्रतिशत किया गया है. साथ ही विशेष योग्यजन की पेंशन भी बढ़ाकर एक हजार 250 रुपये कर दी गई.

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा विशेष अभियान चलाकर 10 लाख से अधिक विशेष योग्यजनों का पंजीकरण करवाया गया था तथा 3 लाख से अधिक विशेष योग्यजनों का यूडीआईडी कार्ड बनवाया गया. उन्होंने बताया कि आईडी कार्ड जारी करने वाला राजस्थान देश में प्रथम ऐसा राज्य बना. उन्होंने कहा कि 2 माह पहले कैंप लगाकर विशेष योग्यजनों को 5 हजार उपकरण वितरित किए गए. 

प्रतिभा को बाहर निकालने का करें प्रयास
उन्होंने देश एवं प्रदेशवासियों से अपील की कि वे विशेष योग्यजनों को अच्छी दृष्टि से देखें तथा उनकी बहुमुखी प्रतिभा को बाहर निकालने का प्रयास करें. उन्होंने कहा कि आज इस कार्यक्रम में इन दिव्यांगजनों को सांस्कृतिक, खेलकूद तथा सामाजिक गतिविधियों में सम्मानित किया जा रहा है, इससे सीखकर अन्य दिव्यांगजन भी इस तरह का कार्य करने के लिए प्रोत्साहित होंगे.

समानता देने के लिए किया जा रहा प्रयास
कार्यक्रम में निदेशक, विशेष योग्यजन शुचि त्यागी ने कहा कि यह दिवस विशेष योग्यजनों को प्रोत्साहन देने के लिए विश्व भर में मनाया जाता है. वर्ष 2011 से इस तरह का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है. सरकार द्वारा विशेष योग्यजनों को प्रोत्साहित करने के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही है साथ ही सरकार विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ मिलकर भी उन्हें सशक्त तथा अवसर की समानता देने के लिए कार्य कर रही है.

व्यक्तियों तथा संस्थाओं का सम्मान किया गया
कार्यक्रम में विशेष योग्यजनों द्वारा नृत्य, नाटक सहित विभिन्न सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी दी गई. साथ ही कार्यक्रम में इस क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों तथा संस्थाओं का सम्मान किया गया. कार्यक्रम में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री द्वारा 5 ट्राईसाइकिल, 30 व्हील चेयर तथा 25 जोड़े श्रवण यंत्र विशेष योग्यजनों को वितरित किए गए.

इस अवसर पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के प्रमुख शासन सचिव  अखिल अरोड़ा, बाल अधिकारिता विभाग की आयुक्त डॉ. वीना प्रधान सहित विभागीय अधिकारी तथा बड़ी संख्या में इस क्षेत्र में कार्य करने वाली स्वयंसेवी संस्थाएं तथा विशेष योग्यजन मौजूद थे.