Jaipur में Bharat Bandh का मिला जुला असर, मंत्री Pratap Singh kachariyawas ने कही यह बड़ी बात

केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में भारत बंद के आह्वान पर आज जयपुर में कांग्रेसी नेता कार्यकर्ता सक्रिय नजर आए. 

Jaipur में Bharat Bandh का मिला जुला असर, मंत्री Pratap Singh kachariyawas ने कही यह बड़ी बात
केंद्र के तीन कृषि कानूनों (Agriculture Law) के विरोध में किसानों के भारत बंद को कांग्रेस का भी बड़ा समर्थन मिला.

जयपुर: केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में भारत बंद (Bharat Bandh) के आह्वान पर आज जयपुर में कांग्रेसी नेता कार्यकर्ता सक्रिय नजर आए. जयपुर में कांग्रेस की ओर से परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Pratap Singh kachariyawas) ने मोर्चा संभाला. प्रताप सिंह ठेठ किसानी अंदाज में ट्रैक्टर के जरिए शहर की सड़कों पर रैली निकालकर व्यापारियों से दुकानें बंद करने की अपील की तो वहीं कांग्रेस के माइनॉरिटी प्रकोष्ठ ने गांधीवादी तरीके से दुकानें बंद करवाई. सेवा दल की ओर से भी शहर की सड़कों पर शांति मार्च निकाला गया.

केंद्र के तीन कृषि कानूनों (Agriculture Law) के विरोध में किसानों के भारत बंद को कांग्रेस का भी बड़ा समर्थन मिला. राजधानी जयपुर में बंद का व्यापक असर नजर आया. जयपुर शहर में कांग्रेस पार्टी की ओर से मोर्चा परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने संभाला. प्रताप सिंह खाचरियावास सुबह 10 बजे अपने सिविल लाइंस बंगले से ट्रैक्टर पर बैठकर शहर में काफिले के साथ निकले. इस दौरान न्यू सांगानेर रोड हसनपुरा एमआई रोड और चारदीवारी क्षेत्र में दुकानदारों से किसानों के समर्थन में दुकानें बंद करने की अपील की.

जयपुर के अलग-अलग इलाकों में कांग्रेस के अन्य नेताओं ने भी अपने अपने स्तर पर अपने अपने तरीकों से बाजार बंद करवाए. सांगानेर इलाके में कांग्रेस नेता पुष्पेंद्र भारद्वाज (Pushpendra Bhardwaj) ने ट्रैक्टर रैली निकालकर किसानों के समर्थन में मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. वहीं, प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय से कांग्रेस नेता मोहन डागर ने ट्रैक्टर रैली के जरिए किसानों के पक्ष में समर्थन का ऐलान किया. कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग की ओर से प्रदेश अध्यक्ष आबिद कागजी ने बाजार बंद करवाने के लिए गांधीवादी तरीके का सहारा लिया. उन्होंने लोगों को फूल देकर दुकानें बंद करने की अपील की. मालवीय नगर में कांग्रेस नेता अर्चना शर्मा (Archna Sharma) की अपील पर व्यापारियों ने दुकानें बंद रखी. राजस्थान सेवा दल की ओर से अध्यक्ष हेम सिंह के नेतृत्व में भी चांदपोल से लेकर बड़ी चौपड़ तक बंद के समर्थन में शांति मार्च निकाला गया.

कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि कांग्रेस किसानों के इस बंद को कांग्रेस का व्यापक समर्थन मिला. कुछ बाजारों को छोड़ दिया जाए तो अधिकांश जगह व्यापारी बंद के समर्थन में नजर आए. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा की अपील पर कांग्रेस नेताओं ने सड़कों पर उतर कर अपनी सक्रियता दिखाई. निश्चित तौर पर कॉन्ग्रेस आज के इस बंद के जरिए किसानों की हितैषी होने का संदेश देने में काफी हद तक कामयाब रही.

ये भी पढ़ें: BJP से अलग होगी RLP! Farmers के Bharat Band का बेनीवाल ने किया समर्थन