close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में सेना ने चलाया राहत अभियान, बचाव कार्य जारी

सेना के अलावा, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टुकड़ियों को भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव कार्य में लगाया गया है.  

राजस्थान के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में सेना ने चलाया राहत अभियान, बचाव कार्य जारी
राजस्थान में लगातार बारिश के कारण बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है.

जयपुर: सेना ने राजस्थान के जिलों में बाढ़ राहत-बचाव कार्यों के लिए आठ टीमें तैनात की हैं. मालूम हो कि राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण बाढ़ जैसी स्थिति बन गई है. एक अधिकारी ने कहा, 'राजस्थान के कोटा, झालावाड़, धौलपुर और सवाई माधोपुर जिलों में राहत अभियान चलाया जा रहा है'.

सोमवार को भारत मौसम विभाग ने गुजरात, कोंकण और गोवा और कर्नाटक के तटीय क्षेत्र, तेलंगाना के अलावा रायलसीमा, आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्र और तमिलनाडु में भारी बारिश की भविष्यवाणी की है.

सेना के अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि राजस्थान में बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में फंसे लोगों को निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए लाइफबोट को काम पर लगाया गया है. सेना के अलावा, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टुकड़ियों को भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव कार्य में लगाया गया है.

राजस्थान में पिछले सप्ताह से जारी भारी और लगातार बारिश के कारण बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है. राजस्थान और मध्य प्रदेश प्रशासन द्वारा बांधों से पानी निकालने के लिए कई बैराजों के द्वार खोले जाने के बाद निचले इलाकों में बाढ़ आ गई है.

आईएमडी ने सोमवार को बताया, 'गुजरात, कोंकण गोवा और कर्नाटक के तटीय क्षेत्र में अगले 4-5 दिनों के दौरान अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है. अगले 3-4 दिनों के दौरान तेलंगाना, रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में भी भारी बारिश हो सकती है'.