close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अपना ही निकला बच्चा चोर, जानकारी लगते ही परिजनों के उड़े होश

बच्चा चोरी की एक वारदात ने मजदूरी करने वाले एक परिवार को हिलाकर रख दिया. दरअसल उनकी एक साल की बच्ची को चुराने वाली महिला साथी मजदूर ही निकली.

अपना ही निकला बच्चा चोर, जानकारी लगते ही परिजनों के उड़े होश
एक साल की बच्ची को एक महिला अपहरण कर ले गई

देवेन्द्र सिंह,भरतपुर : औलाद की चाहत में लोगों को तमाम तरह के जतन करते आपने देखा और सुना होगा, लेकिन औलाद की चाहत में कोई गुनहगार भी बन सकता है, ऐसा भरतपुर जिले के नदबई थाना क्षेत्र इलाके में साबित हुआ. पुलिस ने एक साल की बच्ची के अपहरण के आरोप में एक महिला को गिरफ्तार किया तो सारी कहानी खुलकर सामने आ गई. जानकारी के मुताबिक महिला गुजरात के अहमदाबाद के बटवा पुलिस थाने के सद्भावना नगर से अपनी साथी मजदूर की एक साल की बेटी को अगवा कर राजस्थान के भरतपुर ले आई और अपने गांव से मध्यप्रदेश जाने की फिराक में थी, लेकिन राजस्थान के भरतपुर जिले के उटारदा में अपने कथित प्रेमी के गांव पहुंच गई. जैसे ही पुलिस को इसकी भनक लगी पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए आरोपी महिला को अपह्त मासूम के साथ बरामद कर लिया.

नदबई पुलिस थाना प्रभारी के मुताबिक उनके पास अहमदाबाद के बटवा थाने से फोन आया कि एक साल की बच्ची को एक महिला अपहरण कर ले गई है, जिसकी लोकेशन राजस्थान के भरतपुर जिले के नदबई थाने के उटारदा गांव की मिल रही है. इसके बाद पुलिस ने एक्शन दिखाते हुए आरोपी महिला को धर दबोचा. पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला की कोई संतान नहीं है, वह विधवा है इसीलिए अपनी ही साथी मजदूर की बच्ची का मौका देखकर अपहरण कर लिया था. फिलहाल बच्ची को दस्तयाब कर लिया गया है, जिसकी हालत बिल्कुल सामान्य है. 

दरअसल लालच में लोग कितने अंधे हो जाते है ये कहानी उसकी बानगी है.आज के समय में एक इंसान अपनी खुशी के लिए दूसरों की खुशी का कत्ल करने में जरा भी संकोच और देर नहीं लगा रहा है.मौका मिलते ही वो सारी हदें पार करने को तैयार है आरोपी महिला की अगर कोई संतान नहीं थी तो अनाथ आश्रम से बच्चा गोद भी ले सकती थी लेकिन उसने ऐसा नहीं किया ।