close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

धौलपुर: डकैत जगन गुर्जर का आतंक, बंदूक के बल पर महिलाओं से की मारपीट, निर्वस्त्र कर घुमाया

पीड़ित परिवार के मुखिया लाल सिंह ने बताया कि गांव में पानी का अभाव होने पर घर के सभी पुरुष पशुओं को लेकर पलायन कर गए थे. महिला और बच्चे घर पर अकेले रह रहे थे.

धौलपुर: डकैत जगन गुर्जर का आतंक, बंदूक के बल पर महिलाओं से की मारपीट, निर्वस्त्र कर घुमाया
जगन गुर्जर अपने साथियों के साथ मार्केट में फायरिंग करता नजर आया.

धौलपुर: जिले के बाड़ी शहर में 12 जून को डकैत जगन गुर्जर ने आधा दर्जन हथियारबंद साथियों के साथ दुकानदारों पर लाठी-डंडों से ताबड़तोड़ हमला बोला था और दुकानदारों के सामान को सड़क पर फेंक कर फायरिंग कर दहशत फैलाई थी. उसके बाद डकैत जगन गुर्जर ने अपने साथियों के साथ बसईडांग थाना क्षेत्र के गांव सायपुर करनसिंह का पुरा में पहुंचकर एक परिवार को बंधक बना लिया. 
डकैत और उसके साथियों ने पहले महिलाओं और बच्चों से मारपीट की उसके बाद महिलाओं को अर्द्ध नग्न कर हथियारों की नोक पर गांव में घुमाया. करीब एक घंटे तक चले घिनौने कृत्य के बाद डकैत स्कॉर्पियो गाड़ी में सवार होकर फरार हो गया. पीड़ित परिवार ने घटना की सूचना स्थानीय बसईडांग थाना पुलिस को दी. पुलिस ने बीती देर रात गांव पहुंचकर महिलाओं को बाड़ी राजकीय चिकित्सालय पर भर्ती कराया जहां उपचार किया जा रहा है.

पीड़ित परिवार के मुखिया लाल सिंह ने बताया कि गांव में पानी का अभाव होने पर घर के सभी पुरुष पशुओं को लेकर पलायन कर गए थे. महिला और बच्चे घर पर अकेले रह रहे थे. इसी दौरान 12 जून को डकैत जगन गुर्जर अपने तीन साथियों के साथ स्कॉर्पियो गाड़ी से गांव पहुंच गया. डकैत ने घर में घुसकर महिला और बच्चों से मारपीट की. घर में मारपीट कर दस्यु जगन डकैत ने महिलाओं के कपड़े उतरवाकर नंगा करवा दिया. उसके बाद दस्यु मारपीट कर हथियारों की नोक पर महिलाओं को गांव के बाहर ले गया. 

करीब एक घंटे तक महिला और बच्चों से मारपीट करने के बाद दस्यु स्कॉर्पियो गाड़ी में बैठकर फरार हो गया. दस्यु के जाने के बाद महिलाओं ने मोबाइल फोन पर घटना से परिवार के पुरुष लोगों को अवगत कराया. पीड़ित परिवार ने मामले की सूचना स्थानीय बसईडांग थाना पुलिस को दी. देर रात पुलिस गांव पहुंच गई. पुलिस ने गांव पहुंचकर घटनास्थल का मौका मुआयना कर ग्रामीणों से जानकारी हासिल की. घायल अवस्था में महिलाओं और बच्चों को बाड़ी राजकीय चिकित्सालय पर भर्ती कराया गया. जहां पुलिस ने महिलाओं का मेडीकल कराया है. मामले में बसईडांग थाने के हैड कांस्टेबल जय नारायण शर्मा ने बताया कि डकैत जगन गुर्जर ने गांव पहुंचकर महिलाओं और बच्चों के साथ मारपीट की है.महिलाओं को बेआबरू और नंगा कर गांव में घुमाया गया है. पुलिस ने घायल महिला और बच्चों को बाड़ी राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया है. घटना को लेकर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.