close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर में बारिश ने तोड़े सभी रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने दिए अलर्ट रहने के निर्देश

जयपुर, दौसा, कोटा, झुंझनूं, सीकर, टोंक, भरतपुर में जहां औसत से करीब 30 से 40 फीसदी ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है.

जयपुर में बारिश ने तोड़े सभी रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने दिए अलर्ट रहने के निर्देश
जयपुर में पिछले चार दिनों में करीब 200 एमएम बारिश दर्ज की जा चुकी है.

जयपुर: मानसून की पिछले चार दिनों की बारिश अब आफत की बारिश बन गई है. पिछले चार दिनों से राजधानी जयपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश के चलते अब जन-जीवन बेहाल होने लगा है और इस दौरान प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश ने अपने पिछले कई सालों के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. 

राजधानी जयपुर में पिछले चार दिनों में करीब 200 एमएम बारिश दर्ज की जा चुकी है तो वहीं सीकर, टोंक, सवाईमाधोपुर, भरतपुर, कोटा में भी हालात बिगड़ते जा रहे हैं. जयपुर के ग्रामीण हिस्सों में हालात को और भी बदतर स्थिति में पहुंच गए हैं.

25 जुलाई तक प्रदेश के लोगों को भीषण गर्मी और उमस ने ऐसा सताया की लोग त्राहिमाम करने लगे और इसकी वजह थी की मानसून की दस्तक के बाद भी 15 दिनों तक बारिश नहीं होना, लेकिन 25 जुलाई की शाम बदले मौसम ने ऐसी बारिश का दौर शुरू किया की अब तीन दिनों में ही बारिश अपने कई रिकॉर्ड तोड़ने की ओर अग्रसर हो गई है. राजधानी जयपुर में जहां बारिश ने अपने 27 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया तो वहीं प्रदेश के अन्य जिलों में भी भारी बारिश लोगों को सता रही है.

जयपुर, दौसा, कोटा, झुंझनूं, सीकर, टोंक, भरतपुर में जहां औसत से करीब 30 से 40 फीसदी ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है. वहीं दूसरी ओर आने वाले 3 दिनों तक प्रदेश के करीब एक दर्जन जिलों में मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग ने इस दौरान प्रशासन को भी अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं.

मौसम विभाग की अगर मानी जाए तो अगले तीन दिन प्रदेश के लिए और भारी रहने की संभावना है. इस दौरान जहां एक दर्जन से ज्यादा जिलों मे भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. वहीं करीब आधा दर्जन जिलों में भारी से भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. ऐसे में इस साल लगता है कि मानसून लोगों की कड़ी परीक्षा लेगा.