• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    352बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    88कांग्रेस+

  • अन्य

    102अन्य

सवाई माधोपुर के इस अस्पताल में प्रसव पीड़ा कम करने के लिए बजाई जाती है धुन

जिले के सभी सरकारी अस्पतालों में प्रसव के लिए आने वाली महिलाओं को दर्द से राहत देने के लिये प्रसव के दौरान लेबर रूम में म्यूजिकल धुन बजाई जाती है. 

सवाई माधोपुर के इस अस्पताल में प्रसव पीड़ा कम करने के लिए बजाई जाती है धुन
लेबर रूम में बजाई जाने वाली धुन एक साधारण धुन है

सवाई माधोपुर: प्रदेश के सवाई माधोपुर के जिला अस्पताल सहित जिले के सभी सरकारी अस्पतालो में प्रसव के लिए आने वाली प्रसूताओं को प्रसव के दौरान दर्द से ध्यान भटकाने और राहत देने के लिए नवाचार के रूप में लेबर रूम में म्यूजिकल धुन बजाई जाती है. ताकि प्रसूता को दर्द का अहसास कम हो और उसका प्रसव ठीक तरह से ही सके. 

जिले के सभी सरकारी अस्पतालों में प्रसव के लिए आने वाली महिलाओं को दर्द से राहत देने के लिये प्रसव के दौरान लेबर रूम में म्यूजिकल धुन बजाई जाती है. ताकि प्रसव के दौरान प्रसूता को दर्द से कुछ राहत मिल सके. इस मामले को लेकर सामान्य चिकित्साल के पीएमओ का कहना है कि राजस्थान सरकार द्वारा एक आदेश जारी किया गया है, जिसके तहत स्वास्थ्य विभाग के आई एस ई डिपार्टमेंट द्वारा सामान्य चिकित्सालय के लेबर रूम में बजाने के लिए एक पेनड्राईव भेजा गया है.

उनका कहना है कि जब भी लेबर रूम में कोई डिलीवरी होती है तो सरकारी आदेश के तहत म्यूजिकल धुन बजाई जाती है. ताकि प्रसूता को प्रसव दर्द से कुछ राहत मिल सके. उनका कहना है कि लेबर रूम में बजाई जाने वाली धुन एक साधारण धुन है, जो सिर्फ प्रसूता का ध्यान भटकने के लिए लेबर रूम में बजाई जाती है. वहीं प्रसूताओं का कहना है कि लेबर रूम के म्यूजिकल धुन तो बजाई जाती है, मगर कौन सी धुन बजाई जाती है प्रसव दर्द के कारण उन्हें इस बात का अहसास नहीं होता है.

प्रसव के दौरान लेबर रूम में बजाई जाने वाली म्यूजिकल धुन की लेकर जब हमने मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी तेजराम मीणा से बात की तो उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा ऐसा कोई आदेश लिखित में जारी नहीं किया गया. उनका कहना है मौखिख आदेश पर ही उनके द्वारा लेबर रूम में म्यूजिकल धुन बजाने का नवाचार किया गया है, ताकि प्रसूता को प्रसव के दौरान दर्द से राहत मिल सके. साथ ही लेबर रूम में बजाई जाने वाली धुन को लेकर उनका कहना है कि ये धुन कुछ कुछ गायत्री मंत्र जैसी है पर गायत्री मंत्र नहीं है. ये सिर्फ एक साधारण धुन है. ये धुन किसी धार्मिक मंत्र की धुन नहीं है.

प्रसव के दौरान लेबर रूम में बजाई जाने वाली म्यूजिकल धुन को लेकर भले ही कोई कुछ भी कहे, लेकिन ये धुन ना तो गायत्री मंत्र की धुन है और ना ही किसी धार्मिक मंत्र जैसी है. ये महज एक साधारण म्यूजिकल धुन है जिसके बजाए जाने से प्रसूता को प्रसव दर्द से कुछ हद तक राहत जरूर मिलती है.