करौली: लिंक रोड पर लगने वाले जाम से जल्द मिलेगी राहत, नगर परिषद ने बनाई योजना

करौली शहर की लिंक रोड पर आए दिन लगने वाले जाम से शहरवासियों को जल्द निजात मिलने वाली है. नगर परिषद इस की कार्ययोजना तैयार कर रहा है.

करौली: लिंक रोड पर लगने वाले जाम से जल्द मिलेगी राहत, नगर परिषद ने बनाई योजना
प्रतीकात्मक तस्वीर

करौली: हिंडौन शहर की लिंक रोड पर आए दिन लगने वाले जाम से शहरवासियों को जल्द निजात मिलने वाली है. नगर परिषद इस की कार्ययोजना तैयार कर रहा है. हालांकि बाहरी क्षेत्रों में अतिक्रमण हटाने की कवायद नगर परिषद ने शुरू कर दी है. इसके बाद जल्दी शहर के अंदर अतिक्रमण हटाने का कार्य भी किया जाएगा.
 
बता दें कि, जिले की सबसे अधिक आबादी वाला उपखंड हिंडौन सिटी बरसों से अतिक्रमण की मार झेल रहा है. अतिक्रमण ने जहां शहर के सौंदर्य पर दाग लगा रखा है. वहीं, आए दिन लगने वाले जाम से भी लोगों को दो चार होना पड़ता है. हिंडौन नगर परिषद सभापति अरविंद जैन और आयुक्त प्रेमराज मीना ने जनप्रतिनिधियों व पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर हिंडौन शहर को स्वच्छ व अतिक्रमण मुक्त बनाने की कार्य योजना तैयार की. जिसके बाद हिंडोन के झारेडा रोड पर अतिक्रमण हटाओ अभियान का आगाज किया.

अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत पिछले 2 दिनों में हिण्डौन के झारेड़ा रोड पर सैकड़ों कच्चे पक्के अतिक्रमणों को ध्वस्त कर दिया गया. नगर परिषद आयुक्त प्रेम राज मीणा ने बताया की अतिक्रमणों को चिन्हित कर लाल निशान लगाए और नोटिस जारी किया गया. इसके बाद समानता से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की.

साथ ही उन्होंने बताया कि हिंडौन शहर के अन्य लिंक रोड़ से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के बाद शहरी क्षेत्र में भी अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जाएगा. इसका हिंडौन शहर के लोगों ने भी स्वागत किया है. वहीं, नेता प्रतिपक्ष बलवीर चतुर्वेदी ने अतिक्रमण हटाओ अभियान का समर्थन करते हुए कहा कि शहर को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए नगर परिषद द्वारा शुरू किया गया अभियान प्रशंसनीय है. पूरा विपक्ष इसके लिए साथ खड़ा हुआ है.

नगर परिषद सभापति अरविंद जैन ने बताया कि हिण्डौन शहर को स्वच्छ व अतिक्रमणमुक्त बनाने का संकल्प लेकर कार्य किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि पिछले 5 साल में हिंडौन शहर में स्वच्छता अभियान में विशेष रूप से कार्य किया गया. जिससे हिंडौन की रैंकिंग में सुधार हुआ. इसके अलावा हिंडौन शहर के पार्क की सूरत लाखोंरुपए की लागत से कार्य कराकर बदल दी गई है. साथ ही, विभिन्न स्थानों पर  सड़क में नाली का निर्माण कार्य कराए गए हैं. नगर परिषद सभापति ने सीवरेज और पानी की पाइप लाइन डालने के बाद क्षतिग्रस्त हुए कॉलोनी की सड़कों को नया बनाने के लिए भी प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार के पास भेजने की जानकारी दी.