close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

करौली की कई कॉलोनियों में पेयजल संकट से लोग परेशान, थाने के बाहर किया प्रदर्शन

वहीं लोगों को कम दबाव और कम समय जलापूर्ति होती है. जिसके कारण परेशानी का सामना करना पड़ता है. पिछले 10 दिनों से क्षेत्र के लोगों को पेयजल आपूर्ति 5 से 10 मिनट हो रही है.

करौली की कई कॉलोनियों में पेयजल संकट से लोग परेशान, थाने के बाहर किया प्रदर्शन
नाराज लोगों ने थाने के पास सुबह 7 बजे सड़क पर जाम लगा दिया.

करौली: 10 दिन से पेयजल संकट का सामना कर रहे कॉलोनी वासियों ने थाने के पास सड़क पर जाम लगाकर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान जलदाय विभाग, नगर परिषद और प्रशासन पर अनदेखी के आरोप लगाए है. थाने से कुछ मीटर की दूरी पर जाम लगने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची, जिसके चलते वाहन चालक और राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ा. 

बाद में नप सभापति राजाराम गुर्जर मौके पर पहुंचे और समझाइश कर जाम खुलवाया. कॉलोनीवासी रामसिंह और जगदीश ने बताया कि इंदिरा कॉलोनी, नूर कॉलोनी, संतोषी माता कॉलोनी सहित आधा दर्जन कॉलोनीवासी पिछले 1 वर्ष से पेयजल संकट से त्रस्त हैं. लोगों का आरोप है कि क्षेत्र में पाइपलाइन के वाल्व में लीकेज के कारण हजारों लीटर पानी व्यर्थ बह जाता है. 

वहीं लोगों को कम दबाव और कम समय जलापूर्ति होती है. जिसके कारण परेशानी का सामना करना पड़ता है. पिछले 10 दिनों से क्षेत्र के लोगों को पेयजल आपूर्ति 5 से 10 मिनट हो रही है. लोगों का आरोप है कि बार-बार शिकायत के बाद भी समाधान नहीं हुआ है. 

इस दौरान लोगों ने कनिष्ठ अभियंताओं पर भी फोन नहीं उठाने के आरोप लगाए हैं. नाराज लोगों ने थाने के पास सुबह 7 बजे सड़क पर जाम लगा दिया. जिससे स्कूल जाने वाले छात्रों, शिक्षकों, कामकाजी लोग और वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा. जाम लगाने की करीब 1 घंटे बाद नप सभापति राजाराम गुर्जर मौके पर पहुंचे और जल्द समस्या समाधान का भरोसा दिया, साथ ही टैंकर से पेयजल आपूर्ति शुरू कराने के निर्देश दिए. आश्वासन के बाद लोगों ने जाम खोल दिया. हालांकि, लोगों ने शीघ्र समाधान नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है.