close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में मानसून हुआ मेहरबान, अब तक 309.8 एमएम बारिश दर्ज

इस साल राजस्थान में अभी तक सामान्य से करीब 19 फीसदी से ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है.

राजस्थान में मानसून हुआ मेहरबान, अब तक 309.8 एमएम बारिश दर्ज
पूर्वी राजस्थान के 23 जिलों में से 21 जिलों में सामान्य से ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है.

जयपुर: प्रदेश में मानसून की दस्तक के साथ ही तीन सप्ताह तक प्रदेश में बारिश नहीं होने के साथ ही लोगों के साथ ही किसानों की सांसे फूल गई थी, लेकिन 25 जुलाई के बाद जब मानसून ने बरसना शुरू किया तो मानों सालों की कसर पूरी करने के इरादे से बरसा. इस साल प्रदेश में मानसून की मेहरबानी जमकर देखने को मिली. इस साल राजस्थान में अभी तक सामान्य से करीब 19 फीसदी से ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है, जिसके चलते जमीन की प्यास तो बुझी ही है साथ ही नदी-नाले भी पूरे ऊफान पर हैं.

प्रदेश में इस साल मानसून ने 2 जुलाई को दस्तक दी, लेकिन 2 जुलाई से 24 जुलाई तक मानसून पूरी तरह से कमजोर बना रहा. इस दौरान प्रदेश में सामान्य से करीब 40 फीसदी से कम बारिश दर्ज की गई, लेकिन 25 जुलाई के बाद जब मानसून प्रदेश पर मेहरबान हुआ तो महज तीन सप्ताह में ही प्रदेश में सामान्य से करीब 19 फीसदी से ज्यादा बारिश दर्ज हो गई. राजस्थान में अभी तक 309.8 एमएम बारिश दर्ज की जा चुकी है जो सामान्य से 19 फीसदी ज्यादा रही. तो वहीं पूर्वी राजस्थान में अभी तक 484.3 एमएम बारिश दर्ज की गई जो सामान्य से 30 फीसदी से ज्यादा रही, लेकिन पश्चिमी राजस्थान को अभी तक भी बारिश का इंतजार है. पश्चिमी राजस्थान में अभी तक महज 171.2 एमएम बारिश दर्ज की गई है जो सामान्य से 1 फीसदी कम है.

इस साल अभी तक पूर्वी राजस्थान में मानसून की मेहरबानी सबसे ज्यादा रही है. पूर्वी राजस्थान के 23 जिलों में से 21 जिलों में सामान्य से ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है. वहीं 2 जिलों में सामान्य से कम बारिश दर्ज हुई है. इसके साथ ही पश्चिमी राजस्थान के 10 में से 7 जिलों में अभी तक सामान्य से कम बारिश दर्ज की गई है. पूर्वी राजस्थान के अजमेर, भीलवाड़ा, बूंदी, झुंझनूं, प्रतापगढ़, सीकर में अभी तक सामान्य से 50 फीसदी से ज्यादा बारिश दर्ज की गई. वहीं सीकर में सबसे ज्यादा सामान्य से 94 फीसदी ज्यादा बारिश रही. राजधानी जयपुर में भी अभी तक सामान्य से 39 फीसदी ज्यादा बारिश दर्ज की जा चुकी है.

बहरहाल, इस साल मानसून की मेहरबानी प्रदेश में जमकर हो रही है. वहीं मौसम विभाग ने सितम्बर के आधा महीने तक मानसून की मेहरबानी की संभावना जताई है. ऐसे में इस साल ये मानसून लोगों के लिए राहत बनकर आया है.