हिण्डौन सिटी: मौसमी बीमारियों से बढ़ी सरकारी अस्पताल में मरीजों की संख्या, बेड नदारद

यहां 6 घंटे की ड्यूटी समय में अस्पताल के एक कर्मचारी के हिस्से में 30 से 40 मरीज आ रहे हैं. जिससे उनकी ठीक प्रकार से देखभाल नहीं हो पा रही है. 

हिण्डौन सिटी: मौसमी बीमारियों से बढ़ी सरकारी अस्पताल में मरीजों की संख्या, बेड नदारद
अस्पताल में 100 से ज्यादा मरीज रोज आ रहे हैं.

हिण्डौन सिटी: मौसमी बीमारियों के चलते हिण्डौन सिटी में सामान्य चिकित्सालय में मरीजों की संख्या एक साथ बढ़ गई है. ऐसे में बेड की संख्या कम होने व स्टाफ की कमी होने से मरीजों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. हालत यह है कि एक बेड पर दो से तीन मरीजों का इलाज हो रहा है. 

हिंण्डौन के सामान्य चिकित्सालय के मेडिकल वार्ड प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि मेडिकल वार्ड में बेड की संख्या 28 है. लेकिन 100 से ज्यादा मरीज रोज आ रहे हैं. ऐसे में एक बैड पर कई- कई मरीजों का उपचार करना पड़ रहा है. इसके अलावा अस्पताल में स्टाफ की कमी होने से भी मरीजों को ना तो ठीक प्रकार ट्रीटमेंट मिल पा रहा है ना ही उनकी देखभाल हो रही है.

स्टाफ की कमी से जुझ रहा हॉस्पिटल
बताया जा रहा है कि यहां 6 घंटे की ड्यूटी समय में अस्पताल के एक कर्मचारी के हिस्से में 30 से 40 मरीज आ रहे हैं. जिससे उनकी ठीक प्रकार से देखभाल नहीं हो पा रही है. 

स्टाफ और बेड बढ़ाने की हो रही मांग
आपको बता दें कि हिंडौन के सामान्य चिकित्सालय को 200 बेड का करने एवं स्टाफ बढ़ाने की मांग पिछले काफी समय से लोग सरकार से कर रहे हैं.