close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: खदान में मिट्टी ढहने से 5 बच्चियां दबी, 2 की मौके पर मौत

बच्चियां खदान के नीचे से खुर्पी द्वारा खुदाई करने लगी. खुदाई करते समय मिट्टी की विशाल ढाय बच्चियों के ऊपर भरभराकर गिर गई. जिसके नीचे पांचो बच्चियां दब गई. हादसे से मौके पर चीख पुकार मच गई. स्थानीय ग्रामीणों की घटना स्थल पर भारी भीड़ जमा हो गई. 

राजस्थान: खदान में मिट्टी ढहने से 5 बच्चियां दबी, 2 की मौके पर मौत
मृतक बच्चियों के परिवार की त्योहार की खुशियां पल भर में मातम में बदल गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

धौलपुर: जिले के सरमथुरा थाना इलाके के गांव खुर्दिया में उस वक्त हड़कंप मच गया. जब खदानों में मिट्टी लेने गई 5 बच्चियां खदान की मिट्टी ढहने से नीचे दब गई. घटना से ग्रामीणों में सनसनी फैल गई. ग्रामीणों ने निजी स्तर पर रैस्क्यू चलाकर बच्चियों को मिटटी की खदान से बाहर निकाल लिया. जिनमें दो बच्चियों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. वहीं तीन बच्चियां घायल हो गई. 

हादसे की सूचना पाकर सरमथुरा थाना पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गई. पुलिस ने दो मृतक बच्चियों के शव कब्जे में लेकर घायल बच्चियों को स्थानीय सीएचसी पर भर्ती कराया. जहां बच्चियों की नाजुक हालत होने पर चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार देकर जिला अस्पताल रैफर कर दिया. जानकारी के मुताबिक गांव खुर्दिया निवासी 5 बच्चियां दीवाली के त्योहार की तैयारी को लेकर खदान से मिट्टी खोदने गई थी. 

बच्चियां खदान के नीचे से खुर्पी द्वारा खुदाई करने लगी. खुदाई करते समय मिट्टी की विशाल ढाय बच्चियों के ऊपर भरभराकर गिर गई. जिसके नीचे पांचो बच्चियां दब गई. हादसे से मौके पर चीख पुकार मच गई. स्थानीय ग्रामीणों की घटना स्थल पर भारी भीड़ जमा हो गई. लोगों ने निजी स्तर पर रैस्क्यू चलाकर सभी बच्चियों को खदान के नीचे से निकाल लिया. जिसमें 10 वर्षीय अंजली पुत्री रविदास जाटव एवं 12 वर्षीय रचना पुत्री होरीलाल की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. 

वहीं हादसे में 17 वर्षीय अर्चना पुत्री होरीलाल जाटव,10 वर्षीय संजना पुत्री मुन्नालाल जाटव और 7 वर्षीय ललिता पुत्री रोशनलाल जाटव गंभीर रूप से घायल हो गई. उधर हादसे की खबर सुनकर सरमथुरा थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने दोनों मृतक बच्चियों के शव कब्जे में लेकर सरमथुरा राजकीय चिकित्सालय के शवगृह में रखवाए. घायल बच्चियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. 

जहां बच्चियों की नाजुक हालत होने पर चिकित्सकों ने प्राथमिक इलाज देकर जिला अस्पताल रैफर कर दिया. सभी बच्चियां एक ही परिवार के भाइयों की बताई जा रही है. मृतक बच्चियों के परिवार की त्योहार की खुशियां पल भर में मातम में बदल गई. पुलिस ने बच्चियों का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिए है. वहीं पुलिस ने हादसे में मर्ग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.