राजस्थान: धौलपुर में पुलिस और बजरी माफियाओं के बीच मुठभेड़, 2 गिरफ्तार

माफियाओं के हमले के बाद एसपी के गनमैन और पुलिस ने बजरी माफियाओं की घेराबंदी कर ट्रैक्टर-ट्रॉली के पहिये में गोली मार कर उसे जप्त कर दो माफियाओं को हिरासत में लिया.

राजस्थान: धौलपुर में पुलिस और बजरी माफियाओं के बीच मुठभेड़, 2 गिरफ्तार
प्रतीकात्मक तस्वीर

धौलपुर: जिले के निहालगंज थाना क्षेत्र के अशोक विहार कॉलोनी में मंगलवार को बजरी माफिया और पुलिस फिर आमने-सामने हो गए. बजरी माफियाओं ने एसपी की गाड़ी पर पथराव कर दिया और फायरिंग कर दी. माफियाओं के हमले में एसपी तो बाल बाल बच गए, लेकिन उनकी गाड़ी का साइड सीसा टूट गया. 

माफियाओं के हमले के बाद एसपी के गनमैन और पुलिस ने बजरी माफियाओं की घेराबंदी कर ट्रैक्टर-ट्रॉली के पहिये में गोली मार कर उसे जप्त कर दो माफियाओं को हिरासत में लिया. पुलिस और बजरी माफियाओं में हुई मुठभेड़ से कॉलोनी में हड़कंप मच गया. वहीं करीब आधा दर्जन के आसपास बजरी माफिया फरार होने में सफल रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक अशोक विहार कॉलोनी में एसपी अजय सिंह को बजरी माफियाओं के आधा दर्जन से अधिक ट्रैक्टर-ट्रॉलीयों को ले जाने की सूचना मिली थी. जैसे ही एसपी अशोक विहार कॉलोनी पहुंचे तो बजरी माफियाओ ने उनकी गाड़ी पर पथराव और फायरिंग कर दी थी. 

एसपी की गाड़ी पर हमले की सूचना के बाद शहर की कोतवाली थाना पुलिस, निहालगंज थाना पुलिस और सदर थाना पुलिस की टीमों ने अशोक विहार कॉलोनी की चौतरफा घेराबंदी कर माफियाओं को दबोचने की कोशिश की और एसपी के गनमैन ने एक ट्रैक्टर-ट्रॉली के पहिये में गोली मार दी. पुलिस के दबाब को देखकर करीब आधा दर्जन माफिया फरार होने में कामयाब रहे. 

पुलिस ने मौके से घेराबंदी कर एक ट्रैक्टर ट्रॉली को मौके पर जप्त कर लिया. जिसके बाद पुलिस ने दो बजरी माफियाओं को भी हिरासत में ले लिया है. पकड़े गए बजरी माफियाओं से पुलिस ने पूछताछ शुरू कर दी है और दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.