close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आज भरतपुर दौरे पर हैं सचिन पायलट, कहा- निकाय चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

पार्षद अगर मेयर या सभापति चुनेंगे तो भरस्टाचार को बढ़ावा मिलेगा हॉर्स ट्रेडिंग होगी इससे इनकार नहीं किया जा सकता और उसके बाद हाइब्रिड मॉडल वह अजीब है जो व्यक्ति चुनाव लड़े नहीं या जो पार्षद का चुनाव हार जायेगा वह महापौर भी बन सकता है.

आज भरतपुर दौरे पर हैं सचिन पायलट, कहा- निकाय चुनाव लड़ेगी कांग्रेस
सचिन पायलट ने कहा कांग्रेस अकेले ही चुनाव लड़ेगी और जीतेगी.

देवेंद्र सिंह, भरतपुर: उप मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ सचिन पायलट मंगलवार को एक दिवसीय दौरे पर भरतपुर के बयाना पहुंचे. इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने कहा कि निकाय चुनाव कांग्रेस पार्टी अकेले ही लड़ेगी, निकाय चुनाव में उनका किसी भी राजनैतिक दल से कोई गठबंधन नहीं होगा. पायलट ने कहा कि विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी का कई राजनैतिक दलों से गठबंधन था लेकिन निकाय चुनाव में ऐसा नहीं होगा. इतिहास गवाह है कि कांग्रेस पार्टी ने निकाय और पंचायत चुनाव अकेले ही लड़े हैं और जीते भी हैं. पायलट आज भरतपुर के बयाना में पूर्व विधायक बृजेन्द्र सूपा को श्रन्दाजलि देने के बाद मीडिया से बात कर रहे थे.

पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने फिर एक बार अपनी ही सरकार को सवालों के घेरे में खड़ा करते हुए निकाय चुनाव के हाइब्रिड मॉडल पर सवाल उठाए हैं. पायलट ने सरकार के हाइब्रिड फार्मूले पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की और सरकार को कटघरे में खड़ा किया. वह इस फैसले से निराश दिखाई दिए. सरकार के फैसले पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि निकाय चुनाव में महापौर के चुनाव सीधे तौर पर जनता द्वारा करवाए जाएंगे लेकिन सरकार ने फेरबदल कर इस चुनाव को अप्रत्यक्ष कर दिया. इससे पार्टी की साख पर सवाल उठ रहे हैं. पार्षद अगर मेयर या सभापति चुनेंगे तो भरस्टाचार को बढ़ावा मिलेगा हॉर्स ट्रेडिंग होगी इससे इनकार नहीं किया जा सकता और उसके बाद हाइब्रिड मॉडल वह अजीब है जो व्यक्ति चुनाव लड़े नहीं या जो पार्षद का चुनाव हार जायेगा वह महापौर भी बन सकता है. ये फैसला भ्रष्टाचार को बढ़ावा देगा और सरकार को इस फैसले पर पुर्नविचार करना चाहिए.

इधर पायलट के अकेले चुनाव लड़ने के बयान के बाद कांग्रेस के कार्यकर्ता खासे उत्साहित है. पायलट ने मंत्री विश्वेन्द्र सिंह के उस बयान पर मोहर लगा दी जिसमे उन्होंने कहा था कि कांग्रेस अकेले ही चुनाव जीतने में सक्षम है. बता दें कि विगत दिनों निकाय चुनाव को लेकर मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने मीडिया में बयान दिया था कि कांग्रेस और राष्ट्रीय लोकदल विधानसभा चुनाव की तर्ज पर निकाय में भी गठबंधन से चुनाव लड़ेंगे. जिस पर मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने आपत्ति जताई और कहा था कि निकाय चुनाव में आरएलडी से कोई गठबंधन से नहीं होगा. कांग्रेस अकेले ही चुनाव लड़ेगी और जीतेगी.

इससे पहले पायलट ने पूर्व विधायक बृजेन्द्र सूपा के घर पहुंच उनके परिजनों को सांत्वना दी और कहा कि कांग्रेस ने अपने एक मजबूत कार्यकर्ता को खो दिया है. सूपा कांग्रेस के कर्मठ कार्यकर्ता थे जो पार्टी की नीति और रीति के लिए जीवन पर्यंत काम करते रहे उनके पार्टी के लिए किए गए योगदान को भुलाया नहीं जा सकता.